Breaking News
Home / रिलेशनशिप / ऐसे बढ़ता हैं महिलाओं के स्तनों का आकार!

ऐसे बढ़ता हैं महिलाओं के स्तनों का आकार!

इंटरनेट डेस्क। उम्र के साथ ही लड़कियों के शरीर में बदलाव आने लगते हैं। किशोरावस्था के दौरान स्तन बढऩा शुरू होजाते हैं। इसकी शुरुवात 8 साल की उम्र से भी शुरू हो जाती हैं। स्तन 21 साल की उम्र तक बढते रहते हैं । कई महिलाएं स्तनों को बढ़ाने के लिए उन्हें दबाती हैं। ऐसा कोई भी तथ्य अभी साबित नही हुआ है कि ऐसा करने से स्तन बढ़ते हैं।

कई महिलाएं स्तनों को बढ़ाने के लिए उन्हें दबाती हैं। हालांकि ऐसा अभी तक कोई भी तथ्य सामने नहीं आया है, जिसमें इस बात का जिक्र हो कि ऐसा करने से स्तन बड़े हो सकते हैं।

आमतौर पर, जब कोई महिला उत्तेजित होती है तो, उसके स्तनों में रक्त का प्रवाह बढऩे से वो थोड़ा बढ़ जाते हैं। जब कोई महिला वजन उठाती है या वो गर्भवती या स्तनपान कराती है, तो ऐसे में स्तनों का आकर थोड़ा बढ़ जाता है।

अच्छा शेप मिलता

एक्सरसाइज करने से बॉडी को अच्छा शेप मिलता है और ब्रेस्ट ज्यादा आकर्षक लगते हैं लेकिन उनका साइज़ नहीं बढ़ता है। किसी ऑइंटमेंट या क्रीम से भी इनका आकार नहीं बढ़ता। वास्तव में ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने का एकमात्र रास्ता ब्रेस्ट इम्प्लांट ही है।

दबाने या चूसने से बढ़ते है स्तन
आपके दबाने या चूसने से आपकी प्रेमिका के स्तनों का साइज़ नहीं बढ़ सकता है, इसलिए आपको घबराने की ज़रुरत नहीं है। आप एक बात का ख़ास ध्यान रखें कि अगर आपकी प्रेमिका आपको ब्रेस्ट छूने के लिए मना करती है, तो आपको इससे बचना चाहिए। ब्रेस्ट के अलावा भी महिला के पूरे शरीर में कई ऐसे पाट्र्स हैं जिनके ज़रिये आप उन्हें उत्तेजित कर सकते हैं।

डॉक्टर की सलाह ले
इस बारे में अगर आपकी प्रेमिका किसी डॉक्टर की सलाह ले, तो उसके लिए ज्यादा फायदेमंद होगा। हालांकि उन्हें इस बात के लेकर ज्यादा चिंता करने की ज़रुरत नहीं है। वैसे कई महिलाएं चाहती हैं उनके ब्रेस्ट का साइज़ बड़ा हो और बड़े स्तनों से उन्हें ख़ुशी भी मिलती है। खैर, अगर आपकी प्रेमिका इस जवाब से संतुष्ट नहीं है, तो मामला थोड़ा पेचीदा हो सकता है।

यौन संतुष्टि के लिए अच्छी बात
लेकिन अगर वो असुविधा के चलते अपने ब्रेस्ट नहीं छूने देती है, तो आपको उससे बातचीत के जरिये इसका समाधान निकालना चाहिए। यौन क्रिया के दौरान चिंता करना यौन संतुष्टि के लिए एक अच्छी बात नहीं है। इसलिए इस तरह के प्रश्न से आप ना केवल शिक्षित होते हैं बल्कि आपको इस तरह के मिथकों को समझने में भी मदद मिलती है।

 

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *