Home / देश / कार्यक्रम में भावुक हुए अमिताभ बच्चन

कार्यक्रम में भावुक हुए अमिताभ बच्चन

Loading...

सुपरस्टार अमिताभ ने सोमवार को अपने एक ट्वीट में ऋतुपर्णो घोष को याद करते हुए उन्हें एक ऐसा फिल्मकार बताया जिन्होंने मानवीय रिश्तों के सामाजिक पहलुओं को बहुत बिंदास तरीके से फिल्मों में दर्शाया है। उनके अनुसार सत्यजीत रे के बाद ,ऋतुपर्णो घोष बंगाल सिनेमा के निर्माण में एक नया अध्याय लाने वाले अन्वेषक के रूप में याद किये जाएंगे।

दी लास्ट लियर ने अभी हाल में ही 10 साल पूरे किए। इस फ़िल्म के लिए आयोजित मंगलवार को एक कार्यक्रम में अमिताभ भावुक हो गए और बोले, “वे जल्दी चले गए”।

फिल्मकार घोष का निधन 2013 में उनके निवास पर कोलकाता में हृदयँ गति रुक जाने से हो गया था। उनके फिल्मी सफर में उन्हें कई फिल्मो के लिए पुरस्कृत किया गया जिनमें से , बैरभि , असुख , उत्सब , शुभो महूरत , चोखेर बलि , दोसर , शोब चरित्रों काल्पनिक ताशा अबोहोमान प्रमुख हैं।

घोष की आखिरी फिल्म चित्रांगदा (2012) में उनकी मृत्यु से कुछ ही दिन पहले ही रिलीस हुयी थी व् वे अपनी क्राइम थ्रिलर , सत्यावेशी की शूटिंग लगभग समाप्त कर चुके थे।

उन्होंने दो फिम्लों का निर्देशन भी किया था – रेनकोट ( 2004) जिसे राष्ट्रिय पुरस्कार भी मिला था तथा , सनग्लास ( 2012)

अमिताभ अब आमिर खान के साथ , विजय कृष्णा आचार्य की फिल्म “ठग्स ऑफ़ हिंदुस्तान , तथा ऋषि कपूर के साथ 102 नॉट आउट में नज़र आएंगे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *