Breaking News
Home / दुनिया / खनन एवं भूविज्ञान के क्षेत्र में भारत और मोरक्को के बीच एमओयू

खनन एवं भूविज्ञान के क्षेत्र में भारत और मोरक्को के बीच एमओयू

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने खनन एवं भूविज्ञान के क्षेत्र में भारत और मोरक्को के बीच सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए जाने को अपनी पूर्वव्यापी मंजूरी दे दी है। समझौते पर 11 अप्रैल, 2018 को नई दिल्ली में हस्ताक्षर किए गए थे। यह समझौता मोरक्को के ऊर्जा, खान एवं सतत विकास मंत्रालय और भारत सरकार के खान मंत्रालय के बीच हुआ।

Loading...

रमजान माह में सुरक्षा बलों और सेना की कार्रवाई पर रोक

उपर्युक्त एमओयू से भूविज्ञान एवं खनन के क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत और मोरक्को के बीच एक संस्थागत व्यवस्था सुनिश्चित होगी। यह सहयोग दोनों देशों के बीच आर्थिक, सामाजिक एवं पर्यावरण क्षेत्र में पारस्परिक तौर पर लाभप्रद साबित होगा।

ओमान भारत जॉइंट बिज़नेस काउंसिल के सदस्‍यों की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात

उपर्युक्त एमओयू का उद्देश्य खनन एवं भूविज्ञान या भूगर्भशास्त्र के क्षेत्र में भारत और मोरक्को के बीच आपसी सहयोग को मजबूत करना है। सहयोग के दायरे में शामिल विभिन्न गतिविधियों यथा भूगर्भीय बुनियादी ढांचे के विकास, खनन एवं भूविज्ञान को प्रोत्साहन, प्रशिक्षण कार्यक्रमों और भूगर्भीय डेटा बैंक बनाने से नवाचार के उद्देश्य की पूर्ति होगी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *