Breaking News
Home / क्राइम / गाजियाबाद: घरेलू क्लेश के चलते आईएएस ने की खुदकुशी

गाजियाबाद: घरेलू क्लेश के चलते आईएएस ने की खुदकुशी

गाजियाबाद। शुक्रवार को गाजियाबाद जिले के डीएम मुकेश कुमार पांडेय ने खुदकुशी कर ली। उन्होंने मौत को गले लगाने के लिए बक्सर से पटना, पटना से दिल्ली और दिल्ली से गाजियाबाद का सफर तय किया। इस घटना को टालने के लिए उनके परिजनों ने लाख प्रयास किया, मगर असफल रहे।

तनावग्रस्त मुकेश ने आखिरकार गाजियाबाद रेलवे स्टेशन से एक किलोमीटर दूर कोट गांव फाटक के पास पहुंच कर रेलवे ट्रैक पर अपनी गर्दन रख दी और पद्मावत एक्सप्रेस से कटकर खुदकुशी कर ली। शुक्रवार को पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद दिल्ली भेज दिया।

शनिवार को तड़के पांच बजे मुकेश कुमार पांडेय के शव को एयर एम्बुलेंस से उनके परिजन गुवाहाटी लेकर जाएंगे। 2012 बैच के आईएएस मुकेश कुमार पांडेय के परिजन भी इस बात को लेकर हैरान है कि उन्होंने किस परेशानी, बेचैनी व छट-पटाहट के बीच सुसाइड करने का फैसला लिया। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद गाजियाबाद पहुंचे बक्सर के डिप्टी कलेक्टर तौकीर अकरम ने बताया कि मुकेश ने अपने मामा की बीमारी की वजह बताकर छुट्टी ली थी।

स्वीकार्य मानकों के पूर्ण दायरे में है नोटों की गुणवत्ता : रिजर्व बैंक

उनका प्रभार उप-विकास आयुक्त मोबिन अली अंसारी के पास है। इसके बाद वे बक्सर से सड़क मार्ग से वीरवार की सुबह दस बजे पटना पहुंचे और पटना से फ्लाइट से दिल्ली आ गए। चाणक्यपुरी दिल्ली स्थित लीला पैलेस होटल में उन्होंने कमरा लिया। इसके बाद शाम 5 बजे अपने फैमिली व्हाट्स-एप ग्रुप पर उन्होंने परिजनों को सूचना दी कि मानवता से उनका विश्वास उठ गया है।

इस वक्त वे दिल्ली में हैं और खुदकुशी करने जा रहे हैं। इसकी सूचना मिलते ही परिजनों में हड़कंप मच गया और उन्होंने इसकी जानकारी दिल्ली पुलिस को दी। उनकी साली ने दिल्ली के सरोजनी नगर थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज कराई।

केंद्रीय सुषमा स्वराज ने की भूटान के विदेश मंत्री से मुलाकात, डोकलाम गतिरोध पर हुई चर्चा  

इस बीच उन्होंने जनकपुरी के डिस्ट्रिक सेंटर मॉल से कूदकर सुसाइड करने का भी प्रयास किया, लेकिन इसमें असफल रहे। इसके बाद वह दिल्ली से गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पर पहुंचे और स्टेशन से एक किलोमिटर की दूरी पर स्थित कोटगांव फाटक के पास पहुंच कर उन्होंने पद्मावत एक्सप्रेस के आगे लेट कर जान दे दी।

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *