Breaking News
Home / दुनिया / कोर्ट के डर से पाकिस्तान नहीं आए मुशर्रफ

कोर्ट के डर से पाकिस्तान नहीं आए मुशर्रफ

पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक जनरल परवेज मुशर्रफ ने गुरुवार को यह कहा है कि वह पाकिस्तान लौटने वाले थे। लेकिन उच्चतम न्यायालय के गिरफ्तारी आदेश के बाद उन्हें अपनी योजना बदलने को विवश होना पड़ा।

Loading...

आपको बता दे की वर्ष 2016 से दुबई और लंदन में रह रहे 74 वर्षीय मुशर्रफ देश के उच्चतम न्यायालय और उच्च न्यायालय में कई मुकदमों का सामना कर रहे हैं। उन पर एक मामला देशद्रोह का भी है, जो संविधान को पलटने के आरोप में दर्ज किया गया था।

पाकिस्तान के उच्चतम न्यायालय ने इस महीने की शुरुआत में मुशर्रफ से यह कहा था कि यदि वह 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव में लडऩा चाहते हैं तो वह पाकिस्तान लौटें।

पूर्व राष्ट्रपति ने वीडियो लिंक के जरिए संवाददाताओं से कहा कि अदालत में मेरी पेशी से पहले मुझे गिरफ्तार करने पर रोक के शीर्ष अदालत के फैसले ने लौटने की मेरी योजना पर पुन: सोचने को मजबूर कर दिया है।

उन्होंने कहा कि यदि मुझे अदालत में पेशी के बाद गिरफ्तार कर लिया जाता है तो मेरी वापसी का देश को कोई फायदा नहीं होगा। मुशर्रफ ने कहा कि पूरी दुनिया जानती है कि मैं कायर नहीं हूं , लेकिन अब मैं वापसी के लिए उचित समय का इंतजार करूंगा।

अधिकारियों ने एग्जिट कंट्रोल लिस्ट से उनका नाम हटाए जाने के बाद मुशर्रफ इलाज के लिए 18 मार्च 2016 को विदेश रवाना हो गए थे। उनके वकीलों का कहना है कि वह पार्किंसन बीमारी से पीडि़त हैं और विदेश में उनका अब भी उपचार चल रहा है।

भारत-चीन के बाद भारत में हैं सबसे ज्यादा बड़े बांध, सरकार पेश करेगी सुरक्षा विधेयक

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *