Breaking News
Home / ज्योतिष / जानिए माथे पर टीका लगाने के पीछे का रहस्य

जानिए माथे पर टीका लगाने के पीछे का रहस्य

आमतौर पर जब आप किसी पूजा में बैठते हैं या फिर आप किसी शुभ कार्य के लिए जाते हैं तो माथे पर तिलक अवश्य किया जाता है। इतना ही नहीं, पुराने समय में भी राजा-महाराजा जंग पर जाने से पहले तिलक अवश्य करते थे। माना जाता था कि इससे वे सफल होकर सकुशल लौटेंगे। आपने भी विभिन्न त्योहारों पर तिलक अवश्य किया होगा लेकिन क्या आप वास्तव में इसके पीछे का रहस्य जानते हैं। नहीं न, तो चलिए आज हम आपको इस बारे में बताते हैं-

Loading...

तिलक हमेशा मस्तिष्क के केंद्र पर लगाया जाता है। तिलक को मस्तिष्क के बीच में इसीलिए लगाया जाता है क्योंकि हमारे मस्तिष्क के बीच में आज्ञाचक्र होता है. जिसे गुरुचक्र भी कहते हैं। ये जगह मानव शरीर का केंद्र स्थान है। इसे से एकाग्रता और ज्ञान से परिपूर्ण हैं। गुरुचक्र को बृस्पति ग्रह का केंद्र माना जाता है। बृहस्पति सभी देवों का गुरु होता है। इसीलिए इसे गुरुचक्र कहा जाता है।

तिलक हमेशा अनामिका उंगली से लगाया जाता है। अनामिका उंगली सूर्य की प्रतीक होती है। अनामिका उंगली से तिलक लगाने से तेजस्वी और प्रतिष्ठा मिलती है।

फलों के बारे ये बातें जानकर आपका सिर भी चकरा जाएगा!

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *