एक बार फिर टली शबनम की फांसी

उत्तर प्रदेश अमरोहा के बहुचर्चित बावनखेड़ी हत्याकांड की दोषी शबनम की फांसी फिलहाल टल गई है। अमरोहा जिला न्यायालय ने अभियोजन से फांसी की सजा पाई शबनम का पूरा ब्यौरा मांगा था। हालांकि इस बीच शबनम के अधिवक्ता ने राज्यपाल के पास दया याचिका दाखिल कर दी। दोबारा दया याचिका दाखिल होने के चलते फिलहाल फांसी की तारीख तय नहीं हो सकी है।

आज यानी मंगलवार को शबनम की फांसी को लेकर अमरोहा जिला जज की अदालत में सुनवाई हुई। हालांकि इससे कुछ दिन पहले ही शबनम के वकील ने दोबारा दया याचिका के लिए राज्यपाल से गुहार लगाते हुए जिला जेल रामपुर प्रशासन को प्रार्थनापत्र सौंपा था। आज की सुनवाई दौरान इसका जिक्र आने के कारण फांसी की तारीख तय नहीं हो सकी।

14 अप्रैल 2008 की रात को शबनम ने अपने प्रेमी सलीम के साथ मिलकर अपने ही परिवार के 7 लोगों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी थी। इस मामले में निचली अदालत से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक ने दोनों की फांसी की सजा बरकरार रखी थी। दिसंबर 2020 में सुप्रीम कोर्ट ने उसकी पुनर्विचार याचिका भी ख़ारिज कर दी थी। इसके बाद राष्ट्रपति ने भी शबनम की दया याचिका को ख़ारिज कर दिया। हालांकि नैनी जेल में बंद सलीम की दया याचिका पर अभी फैसला होना है।

यह भी पढ़ें:

‘टूलकिट’ मामले में दिशा रवि को मिली जमानत