कोरोना उपचार में जो दवाएँ दी जाती हैं उसपर गौर करें

विटामिन सी-आप प्राकृतिक विटामिन लें, नीबू-संतरा-कीनू-आँवला नियमित रूप से लें। अगर सप्लिमेंटल विटामिन सी लेते हैं तो डॉक्टर से सलाह लेकर ही लें।

विटामिन डी के लिए सुबह जितना कम कपडों में धूप ले सकें उतना ही अच्छा होगा। विटामिन डी युक्त प्राकृतिक भोजन भी लें। अगर आपको सप्लिमेंटल विटामिन डी लेना है तो डॉक्टर से सलाह लेकर लें।

ज़िंक के लिए कई प्राकृतिक स्रोत मौजूद हैं जैसे कोंहड़े-कद्दू का बीज थोड़ा भून कर लें। अगर सप्लिमेंटल जिंक लेना है तो डॉक्टर से सलाह लेकर लें।

और सबसे ज़्यादा ज़रूरी है फेफड़ों की मज़बूती। आप पैदल चलें। बाहर नहीं तो घर-छत पर ही टहल-कदमी करते रहें। या एक्सरसाइज़ साइकिल हो तो चलाएँ। यह सब अपने सामर्थ्य से कम ही करें।

गहरी साँस लेने की प्रैक्टिस करें। नाभि को अन्दर-बाहर करके साँस लें जिसको अंग्रेज़ी में belly breathing कहते हैं।

सबसे पक्का बचाव टीका है और साथ में मास्क और दो गज़ दूरी।

यह भी पढ़ें:

पीएं गुड़ और जीरे का पानी, मिलेंगे जबर्दस्त फायदे