Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / गंगा सफाई को लेकर 112 दिन से अनशन में बैठे पर्यावरणविद जीडी अग्रवाल का निधन

गंगा सफाई को लेकर 112 दिन से अनशन में बैठे पर्यावरणविद जीडी अग्रवाल का निधन

नई दिल्ली: हिन्दू धर्म के आस्था की प्रतीक गंगा नदी को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए 112 दिन से अनशन में बैठे वरिष्ठ पर्यावरणविद जीडी अग्रवाल का निधन गुरुवार को हो गया| उनकी हालत बिगडती देख उन्हें हरिद्वार से दिल्ली ले जाया रहा था लेकिन रास्ते में उनकी मौत हो गई| आपको बता दे की बीते कई दिनों पहले उन्होंने मोदी सरकार को पत्र लिखकर गंगा के लिए अलग कानून बनाने की मांग की थी लेकिन सरकार ने कोई ध्यान नही दिया| इस अनशन के दौरान केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी और उमा भारती ने उनसे अनुरोध किया था की अनशन तोड़ दे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया| आईआईटी के प्रोफेसर रहे जीडी अग्रवाल का गंगा को बचाने के लिये ये 5वां उपवास था| जीडी अग्रवाल केंद्रीय प्रदूषण नियन्त्रण बोर्ड के पहले सदस्य सचिव रह चुके थे और गंगा को बचाने के लिए काफी लम्बे समय से संघर्ष कर रहे थे|

Loading...

 

पहले भी किया था आगाह– 86 साल के मृतक अग्रवाल ने सरकार को पहले भी गंगा सफाई के लिए चेताया था लेकिन सरकारों ने कोई ध्यान नहीं दिया| इससे पहले वो साल 2012 में भी आंरण अनशन में बैठ चुके थे| इस दौरान सरकार ने उन्हें आश्वासन दिया था की उनकी मांगे मानी जाएगी लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई| इस अनशन के दौरान भी उनकी हालत बिगड़ी थी और उन्हें वाराणसी से दिल्ली लाया गया था|

 

बड़ा मुद्दा बना गंगा सफाई– गंगा सफाई आज के समय पर बड़ा मुद्दा बन गया है| काफी लम्बे समय से कई फैक्ट्रियो से निकला हुआ पानी गंगा में मिलता है जिस वजह से लगातार प्रदूषण बढ़ रहा है| इसके अलावा आस्था के नाम पर बहाए जाने वाले फूल और मालाओ की वजह से भी गंगा के पानी में प्रदूषण बढ़ रहा है| आपको बात दे की ऐसा पहली बार नहीं जब किसी की जान गंगा सफाई के लिए अनशन करते हुए गई हो बल्कि इससे पहले भी हो चुका है| साल 2011 में स्वामी निगमानंद ने 115 दिन के अनशन के बाद दम तोड़ दिया था|

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *