धर्मगुरूओं की अपील: कोविड प्रोटोकाल का पालन करें, नमाज घरों में अपने परिवार के साथ अदा करें

कोरोना संक्रमण की लहर जरूर मद्धिम पड़ गई है, लेकिन यह जंग का विराम बिल्कुल नहीं है। प्रशासन की ओर संक्रमण दर को नियंत्रित करने के जो भी एहतियाती कदम हैं, वे सभी उठाए जा रहे हैं। इसी क्रम में अब उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में धर्मगुरूओं ने ईद पर्व को शान्ति, संयम एवं कोविड-19 के प्रोटोकाल के तहत मनाने का आश्वासन दिया है।

पुलिस लाइन में जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन और पुलिस अधीक्षक डा.श्रीपति मिश्र ने बुधवार को मुस्लिम धर्मगुरुओं एवं इस समुदाय के विशिष्ट जनों के साथ बैठक की। श्री निरंजन ने आयोजित इस शान्ति समिति की बैठक में धर्मगुरुओं का आहवाहन करते हुए कहा कि आप सभी समाज के अगुआ हैं। लोगो को इस पर्व को संयम के साथ मनाये जाने के लिये प्रेरित करें। पर्व को संयम के साथ कोविड प्रोटोकाल एवं कोरोना कर्फ्यू के अनुरुप मनाये जाये। भीड न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाये।

उन्होंने अपील करते हुए कहा कि नमाज घरों में अपने परिवार के सदस्य के साथ अदा करें। महामारी से निजात की दुआ जरूर करें। ईद के दिन लोगों से मिलने-जुलने से परहेज करें और इसके प्रति आप सभी अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करते हुए लोगो को प्रेरित भी करें। उन्होने कहा कि लोगों बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने का प्रयास है।

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि त्यौहार को अपने घरो में रह कर मनाये। यह पर्व कोविड महामारी के बीच मनाया जाना है, इसलिये निर्धारित प्रोटोकाल कोरोना कर्फ्यू का अनुपालन आवश्यक है। समाज में संक्रमण न फैले, इसके लिये आप सभी आगे आकर अपनी जागरुकता का परिचय देंगे। मस्जिद में पांच से अधिक व्यक्ति नमाज अदा नहीं करेंगे। घरों में ही परिवार के साथ नमाज अदा करेंगे व इस पर्व को मनायेगें।