मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की पीएम मोदी और राकेश टिकैत के आंसूओं की तुलना

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि आंसू तो आंसू हैं परन्तु आंसुओं के मायने अलग-अलग हो सकते हैं। राकेश टिकैत जी के आंसू निकले तो पूरा उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा के किसान फिर से उठ खड़े हुए। लेकिन अब प्रधानमंत्री जी रोए तो इसका क्या असर है ये तो आप सब देख रहे हैं।

किसान नेता दर्शन पाल सिंह हम हरियाणा सरकार में शामिल BJP और JJP के विधायकों से कहेंगे कि या तो आप हमारे आंदोलन का साथ दीजिए या फिर सरकार का साथ छोड़ दीजिए। इसके साथ हमने राजस्थान के लोगों से कहा है कि सारे टोल प्लाजा को खोल दिया जाए।