4.26 करोड़ घरों में तिरंगा फहराने की योगी सरकार कर रही यूं तैयारी

‘हर घर तिरंगा’ (Har Ghar Tiranga) अभियान की तैयारी जोरों पर है. सरकार ने 20 करोड़ घरों पर तिरंगा फहराने का लक्ष्य रखा है. सरकार 13 से 15 अगस्त के बीच लोगों के सहयोग से 20 करोड़ घरों पर तिरंगा फहराने के अपने लक्ष्य को पूरा करना चाहती है. आम लोगों के घरों के साथ-साथ इसमें सरकारी और निजी प्रतिष्ठान भी शामिल होंगे.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) भी इस अभियान को लेकर खासे उत्साहित दिख रहे हैं. वह प्रदेश के 4.26 करोड़ घरों और 50 लाख सरकारी और गैरसरकारी कार्यालयों पर तिरंगा फहराने की तैयारी कर रहे हैं. सरकार की तरफ से इस योजाना को सफल बनाने के लिए नोडल अधिकारियों की भी नियुक्ति की गई है. सरकार डाक घरों में झंडे की व्यावस्था की है. लोग यहां से झंडे ले सकते हैं. साथ ही ऑनलाइन भी झंडा खरीद सकते हैं.

नोएडा की डीएम सुहास एल.वाई कहते हैं कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए गैरसरकारी संस्थाओं की भी मदद ली जा रही है. ये संस्थाएं झंडे के निर्माण से लेकर बेचने तक का काम कर रही हैं.

आजादी के अमृत महोत्सव के लिए योगी सरकार ने अब तक 3.86 करोड़ झंडों का उत्पादन कर चुकी है. सरकार ने 4.76 करोड़ झंडों के उत्पादन का लक्ष्य रखा है. सरकार ने कुटीर और लघु उद्योगों से अब तक सरकारी मार्केटप्लेस GeM पोर्टल की मदद से 2 करोड़ झंडे खरीदे हैं. 20,000 से अधिक गैरसरकारी और निजी सिलाई कंपनियां इस काम के लिए 24 घंटे काम कर रही हैं.

यूपी खादी ग्रामोद्योग बोर्ड ने अब तक 36.4 लाख झंडे बनाए हैं, जबकि प्राइवेट सिलाई केंद्रों ने अब तक 35.3 लाख झंडे तैयार किए हैं.

सरकार ने 2 करोड़ झंडे खरीदने के लिए 40 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. सरकार इन झंडों को सरकारी इमारतों के साथ-साथ जरूरतमंद लोगों को भी देगी. सरकार ने एक झंडे की कीमत करीब 20 रुपये तय की है.

यह भी पढ़ें:

CNG-PNG की कीमतों में इजाफा, लखनऊ में सीएनजी का दाम डीजल से हुआ अधिक; चेक करें लेटेस्ट रेट्स