India और England के बीच 5 बड़े विवाद, जब खिलाड़ियों ने पार की लड़ाई की सारी हदें

Team India: भारत इस सीरीज में 2-1 से आगे है और उसे सीरीज पर कब्जा करने के लिए सिर्फ ये मैच ड्रॉ कराने की जरूरत है. भारत और इंग्लैंड की टीमें जब भी क्रिकेट के मैदान पर भिड़ती हैं, तो बात सिर्फ गेंद और बल्ले की नहीं होती. मामूली तू-तू मैं-मैं से लेकर मैदान के बाहर के विवाद अक्सर ही सुर्खियों का हिस्सा बन जाते हैं.

 

Team India: भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट मैच 1 जुलाई से 5 जुलाई तक खेला जाएगा. ये टेस्ट मैच पिछले साल भारत और इंग्लैंड के बीच अधूरी छूटी हुई 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का पांचवां और आखिरी टेस्ट मैच है. ये टेस्ट मैच पिछले साल कोरोना की वजह से स्थगित किया गया था. भारत इस सीरीज में 2-1 से आगे है और उसे सीरीज पर कब्जा करने के लिए सिर्फ ये मैच ड्रॉ कराने की जरूरत है. भारत और इंग्लैंड की टीमें जब भी क्रिकेट के मैदान पर भिड़ती हैं, तो बात सिर्फ गेंद और बल्ले की नहीं होती. मामूली तू-तू मैं-मैं से लेकर मैदान के बाहर के विवाद अक्सर ही सुर्खियों का हिस्सा बन जाते हैं. इन विवादों ने दोनों देशों के बीच की प्रतिस्पर्धा का रोमांच ही बढ़ाया है.

आइए एक नजर डालते हैं भारत और इंग्लैंड के बीच हुए 5 बड़े विवादों पर:-

कोहली ने स्टोक्स से लिया था पंगा

साल 2016 में भारत दौरे पर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के साथ बेन स्टोक्स का विवाद काफी चर्चित रहा था और बीच मैदान पर ये दोनों खिलाड़ी भिड़ गए थे. विराट और स्टोक्स के बीच यह मामला 2016 मोहाली टेस्ट मैच का है. मोहाली टेस्ट (Mohali Test) में इंग्लैंड (England) ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. 87 रन पर इंग्लैंड के 4 विकेट गिर चुके थे, लेकिन जॉनी बेयरस्टो और बेन स्टोक्स क्रीज पर जमे हुए थे. काफी देर बाद रवींद्र जडेजा ने बेन स्टोक्स (Ben Stokes) को विकेटकीपर पार्थिव पटेल के हाथों स्टंप आउट करा दिया. बेन स्टोक्स के आउट होने के बाद टीम इंडिया और विराट कोहली (Virat Kohli) ने जश्न मनाया. बेन स्टोक्स को कोहली का अंदाज पसंद नहीं आया. स्टोक्स ने आउट होने के बाद पीछे मुड़कर कुछ कहा जिससे विराट कोहली भड़क गए. बेन स्टोक्स मैदान पर रुक गए और लगातार विराट कोहली की ओर घूरने लगे. विराट ने स्टोक्स का एटिट्यूड देखकर उनसे कुछ कहा. मैदान पर गर्मागर्मी और बढ़ती उससे पहले ही अंपायरों ने दोनों को अलग कर दिया. इसके बाद कोहली अंपायरों से बेन स्टोक्स की शिकायत करते हुए दिखे.

एंडरसन ने जडेजा और धोनी से की थी बदतमीजी

साल 2014 में जब टीम इंडिया पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने के लिए इंग्लैंड (England) के दौरे पर गई थी तो जेम्स एंडरसन (James Anderson) पहले टेस्ट में रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) और महेंद्र सिंह धोनी से भिड़ गए थे. साल 2014 में खेले गए नॉटिंघम टेस्ट के दूसरे दिन लंच के लिए लौटते वक्त एंडरसन ना सिर्फ जडेजा बल्कि कप्तान धोनी (MS Dhoni) से भी उलझ पड़े थे. आईसीसी आचार संहिता के लेवल तीन के तहत टीम इंडिया ने एंडरसन पर जडेजा के साथ बदतमीजी करने और धक्का मारने का आरोप जड़ा. तो, इंग्लैंड टीम ने भी जडेजा पर खेल भावना से खिलवाड़ का आरोप लगाया. मैच रेफरी डेविड बून ने लेवल 1 के तहत जडेजा पर जुर्माना लगाते हुए उनकी 50 फीसदी मैच फीस काट ली. इससे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी गुस्से में आग बबूला हो गए. टीम इंडिया (Team India) ने इसके खिलाफ अपील करने का फैसला ले लिया.

हैरानी की बात ये भी थी कि स्टेडियम में सीसीटीवी लगे होने के बावजूद ईसीबी के पास उस घटना की फुटेज नहीं थी जब ये सारा विवाद हुआ था. भारतीय टीम ने आरोप लगाया था कि ट्रेंटब्रिज में एंडरसन (James Anderson) ने खेल के दूसरे दिन लंच पर जाते समय पहले विवाद शुरू किया और जडेजा (Ravindra Jadeja) को धक्का भी दिया. आईसीसी (ICC) ने गॉर्डन लुइस को ज्यूडिशियल कमिश्नर नियुक्त किया. ज्यूडिशियल कमिश्नर ने सुनवाई के बाद एंडरसन और जडेजा को क्लीन चिट दी और कहा कि जडेजा की फीस भी नहीं काटी जाएगी. इस विवाद को लेकर धोनी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि पता नहीं मैच रेफरी ने क्या देखकर जडेजा पर जुर्माना लगाया था. हम सही थे, एंडरसन ने लक्ष्मण रेखा लांघी थी. रही बात जज की तो उन्हें सबूत चाहिए होता है. मैं उस मसले पर नहीं बोलूंगा. मैंने वही किया जो किया जाना चाहिए था. अगर मेरी टीम का भी कोई खिलाड़ी लक्ष्मण रेखा लांघे तो मैं उसका साथ नहीं देता. बात सिर्फ गाली की नहीं थी. धक्का दिया गया था.

इयान बेल के रन आउट को लेकर बड़ा विवाद

जुलाई 2011 में भारत और इंग्लैंड के बीच नॉटिंघम में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में इयान बेल (Ian Bell) के रन आउट को लेकर बड़ा विवाद खड़ा हो गया. नॉटिंघम (Nottingham) टेस्ट के तीसरे दिन इयोन मोर्गन के साथ इयान बेल क्रीज पर जमे हुए थे. टी ब्रेक से पहले आखिरी गेंद पर मोर्गन ने एक शॉट खेला और उनके साथ बल्लेबाजी कर रहे इयान बेल इसे चौका समझ बैठे. इयान बेल गलतफहमी में अपनी क्रीज को छोड़कर मोर्गन से बात करने लगे, लेकिन गेंद बाउंड्री लाइन से पहले ही प्रवीण कुमार ने पकड़कर अभिनव मुकुंद की तरफ थ्रो कर दी. मुकुंद ने