5 माह की बच्ची को हुई दुर्लभ बीमारी, लगेगा 16 करोड़ का इंजेक्शन, मोदी सरकार ने किया ऐसा काम

5-month-old girl will get 16 crore injection

मुंबई में पांच महीने की बच्ची ‘तीरा कामत’ एसएमए टाइप 1 (SMA Type 1) यानी स्पाइनल अस्ट्रोफी नामक एक दुर्लभ बीमारी से जूझ रही हैं। इस बीमारी से ठीक होने के लिए उसे एक ऐसे इंजेक्शन की जरूरत है, जिसकी कीमत 16 करोड़ रुपए है। लेकिन समस्या यह हैं कि बच्ची के पेरेंट्स के पास इतना पैसा नहीं हैं कि वे इतना खर्चा वहां कर सके। यह इंजेक्शन अमेरिका से आएगा और पेरेंट्स ने इस खर्च के लिए क्राउड फंडिंग का सहारा लिया हैं।

सोशल मीडिया पर पेज बनाकर तीरा का माता-पिता ने क्राउड फंडिंग के जरिए 14 जनवरी तक 10 करोड़ रुपये इकट्ठा कर लिए हैं, लेकिन यह भी कम ही थे। वही, दूसरी तरफ बच्ची की ट्रीटमेंट में करीब 6.5 करोड़ टैक्स लगना था। इसी बीच भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस के दखल से मोदी सरकार ने इंजेक्शन पर लगने वाले सभी टैक्स ( 23 फीसदी आयात शुल्क और 12 फीसदी जीएसटी) को माफ कर दिया, जिसकी कीमत करीब 6.5 करोड़ रुपये है। ‘

पूरा मामला सामने आने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने इस समस्या को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने चिट्ठी के जरिये पेश किया और उनसे गुहार लगाई कि वे अमेरिका से आने वाले इस इंजेक्शन पर लगने वाले सभी टैक्स में छूट दे। सरकार के इस कदम से तीरा के इलाज का रास्ता खुल गया है और अब उसके इलाज के लिए अमेरिका से इंजेक्शन मंगाया जा रहा हैं। डॉक्टर्स के मुताबिक तीरा कामत का इलाज ‘जीन थेरेपी’ के उपयोग से किया जाएगा।

क्या हैं जीन थेरेपी ?

जीन थेरेपी जिसमें एक एडिनोवायरस वाहक का उपयोग होता है। एडिनोवायरस वाहक में एक नया जीन डाला जाता है, जिसका उपयोग संशोधित डीएनए को मानव कोशिका में प्रवेश कराने के लिए किया जाता हैं। इस थेरेपी की मदद से तीरा को वही जीन वापस मिल जाएगा, जो उसके जन्म के दौरान गायब था।

तीरा को स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी टाइप-1 बीमारी

स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी टाइप-1 एक दुर्लभ बीमारी है। जो बच्चे स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी टाइप-1 से पीड़ित होते हैं, उनकी मांसपेशियां कमजोर होती हैं, शरीर में पानी की कमी होने लगती है और स्तनपान करने में और सांस लेने में दिक्कत होती है। इस बीमारी बच्चा पूरी तरह से निष्क्रिय सा हो जाता है।

यह भी पढ़े: जब सलमान के आगे फूट-फूट कर रोए करण जौहर, जवाब मिला-‘मार डालूंगा तुझे’
यह भी पढ़े: जब प्रोड्यूसर ने प्रियंका से कहा ‘फिल्म में चड्डी तो दिखनी ही चाहिए’, जानिये फिर क्या हुआ