कोरोना: थोड़ी सी सावधानी अपको विजेता बना सकती है, थोड़ी सी लापरवाही आपको मौत के कुएं में भी ढकेल सकती है

कोरोना वायरस का प्रवेश बहुत धीरे से होता है। लक्षण भी बहुत धीरे धीरे उजागर होते हैं।हल्का सा जुकाम,हल्का सा बुखार, और हल्की हल्की खाँसी। इस हल्के से लक्षण के समय ही आपको तुरंत जांच करानी चाहिए और तुरंत इलाज करना चाहिए।

शुरू के 5 दिनों में बिल्कुल लापरवाही न करेँ। इसी समय की गई लापरवाही आपको भारी पड़ सकती है और आगे हालात बेकाबू हो सकते हैं।

कपूर, लौंग और अजवाइन का मिश्रण बनाकर इसमें कुछ बूंदे नीलगिरी के तेल की मिलाकर पोटली बना लें। अपने दिन भर के कामकाज के दौरान बीच बीच में सूँघते रहे। यह ऑक्सिजन लेवल बनाये रखने में मदद करता है।

बता दें कि इस तरह की पोटली लद्दाख में पर्यटकों को दी जाती है जब ऑक्सीजन लेवल कम हो जाता है।

मास्क का प्रयोग जरूर करें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। ज्यादा जरूरी हो तभी बाहर निकलें।

थोड़ी सी सावधानी अपको विजेता बना सकती है, थोड़ी सी लापरवाही आपको मौत के कुएं में भी ढकेल सकती है। सावधान रहिये और विजेता बनिये।

यह भी पढ़ें:

ऑक्‍सीजन और ICU बेड हो रहे खत्‍म: अरविन्द केजरीवाल