आज हिंदुस्तान में लोकतंत्र नहीं, 4 लोगों की तानाशाही है- Rahul Gandhi

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज महंगाई को लेकर मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला. कांग्रेस पार्टी के मुख्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस की शुरआत में उन्होंने मीडियाकर्मियों से पूछा की तानाशाही कैसी लग रही है. उन्होंने कहा कि हम लोकतंत्र की मौत देख रहे हैं. जो भारत ने ईंटें जोड़-जोड़कर सैकड़ों सालों में खड़ा किया था वह आपकी आखों के सामने खत्म किया जा रहा है. जो कोई भी तानाशाही की शुरुआत के इस विचार के खिलाफ खड़ा होता है, उस पर शातिर हमला किया जाता है, जेल में डाला जाता है, गिरफ्तार किया जाता है और पीटा जाता है.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि सरकार चाहती है कि लोगों के मुद्दे न उठाए जाएं चाहें वो महंगाई हो, बेरोजगारी हो या फिर समाज में बढ़ती हिंसा हो इन्हें उठाया न जाए. 4-5 लोगों के हितों की रक्षा के लिए सरकार और सरकार का एकमात्र एजेंडा चलाया जा रहा है और 2 लोगों द्वारा 2-3 बड़े व्यापारियों के हित में यह तानाशाही चलाई जा रही है.

उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान का हर संस्थान आज स्वतंत्र, निष्पक्ष नहीं है. हिंदुस्तान का हर संस्थान आज RSS के नियंत्रण में है. हम सिर्फ एक राजनीतिक पार्टी से नहीं लड़ रहे हैं, हम हिंदुस्तान के पूरे इंफ्रास्ट्रक्चर के खिलाफ लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि जब हमारी सरकार होती थी, तब इंफ्रास्ट्रक्चर निष्पक्ष रहता था. हम इंफ्रास्ट्रक्चर को कंट्रोल नहीं करते थे, तब राजनीतिक पार्टियों के बीच लड़ाई होती थी.

इस दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि किसी ने कभी कल्पना नहीं की थी कि देश में ऐसा वक्त भी आएगा कि तिरंगों के लिए लोगों को समाप्त होते देखा जाएगा. कोई कल्पना नहीं कर सकता जिस रूप में संविधान की धज्जियां उड़ रही हैं. महंगाई, बेरोज़गारी, GST पर कोई सुनवाई करने वाला नहीं है.

यह भी पढ़ें:

ताइवान पर खुलकर चीन के साथ आ गया रूस, पाकिस्तान भी सदाबहार दोस्त के समर्थन में