Home / देश / 72 Hours : एक सैनिक के बलिदान और साहस की गाथा

72 Hours : एक सैनिक के बलिदान और साहस की गाथा

फिल्‍म 72 ऑवर्स: मार्टीर हू नेवर डाइड साहस और बलिदान की ऐसी अभूतपूर्व कहानी है, जो राइफलमैन जसवंत सिंह रावत की शाहदत पर बेस्‍ड है। जेएसआर प्रोडक्शन तले बनी और अविनाश ध्यानी दवारा निर्देशित और लिखित फिल्‍म 72 ऑवर्स।

Loading...

इस फिल्‍म में शहीद जसवंत सिंह रावत की भूमिका को प्‍ले कर रहे हैं अविनाश ध्‍यानी। आपको बता दें कि एक सैनिक के साहस और शौर्य को दिखाने वाली 72 ऑवर्स: मार्टीर हू नेवर डाइड फिल्म अरुणाचल प्रदेश के नेफा बॉर्डर पर होने वाले भारत-चीन युद्ध पर केंद्रित है, जहां जसवंत सिंह रावत ने अकेले 72 घंटों तक दुश्मन सेना के 300 सैनिकों को ढेर कर दिया था।  इस फिल्म में अहम भूमिका निभा रहे हैं अविनाश ध्यानी और उनके साथ हैं मुकेश तिवारी, शिशिर शर्मा और वीरेंद्र सक्सेना। टीजर का टीचर रिलीज हो चुका है। इस फिल्‍म का एक संवाद इन दिनों खूब चर्चित हो रहा है “हम लोग लौटें न लौटें, ये बक्से लौटें न लौटें, लेकिन हमारी कहानियां लौटती रहेंगी”।

यह फिल्म 18 जनवरी, को रूपहले पर्दे पर रिलीज होगी।“ फिल्‍म के निर्देशक और एक्टर अविनाश ध्यानी बताते हैं कि, “हमने इस फिल्म की शूटिंग बहुत ही कठिन परिस्थितियों में की गई है, जहां हमें मौसम की मार झेलनी पड़ी। इस फिल्म को बनाने के लिए 750 क्रू मेंबर्स की सहायता ली और 7362 फीट पर इतने बड़े क्रू को मैनेज करना किसी चुनौती से कम नहीं था। मुझे बहुत खुशी है कि फिल्म को हमने अच्छी तरह से बनाया और उम्मीद करते हैं कि दर्शक भी हमारी कड़ी मेहनत को स्वीकार करेंगे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *