Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / स्टेट बैंक ऑफ इडियां की रिपोर्ट के अनुसार 2020 में मिलेगी कम नौकरियां

स्टेट बैंक ऑफ इडियां की रिपोर्ट के अनुसार 2020 में मिलेगी कम नौकरियां

मोदी सरकार देश में घरेलू मामलों को लेकर चाहें कितनी भी सफलता हासिल कर ले। लेकिन देश की अर्थव्यवस्था के मामलें में बिल्कुल पिछड़ चुकी है। सरकार चाहे नबंरो के इस खेल में लोगों से कितना ही झूठ बोल दे। हाल ही में स्टेट बैंक ने रोजगार से संबधित एक रिपोर्ट प्रकाशित की है। जिसमें कहा 22019-2020 में 2018 की तुलना में रोजगार कम मिल रहे है। ईपीएफओ 2017 के पे-रोल डेटा को जारी कर रहा है। जिसमें नौकरी छोड चुके और नौकरी दोबारा ज्वाईन किए लोगो को शामिल कर रहा है। एसबीआई के मुख्य सलाहकार एस के घोष ने कहा है ईपीएफओ डेटा की सही तस्वीर नही दिखा रहा है।

सरकार ने इस साल के वित्त बजट के लिए हाल ही में एक बैठक की थी। जिसमें देश की अर्थव्यवस्था को लेकर लोगों ने चिंता जाहिर की है। नरेंद्र मोदी ने उस समय कहा था कि जिसें भी हमारी सरकार की नीतियों में कोई खामी नजर आती है। वह अपनी सलाह हमें दे सकता है। एसबीआई की इकोरैप रिपोर्ट के अनुसार कहा गया है कि असम, बिहार, उत्तर प्रदेश ओडिशा के राज्यो से नौकरी के लिए बाहर आए लोग अपने घरों में पैसा बहुत कम भेज रहे है। पजांब, गुजरात और महाराष्ट्र में मज़दूरी करने वाले श्रमिक इन राज्यों में जाते है। और पैसा को कमाकर अपने घर भेजते है।

Loading...

हालांकि सरकार ने मंदी के दौर को खत्म करने के लिए काफी प्रयत्न किए। लेकिन सब नाकामयाब रहे। सरकार ने कारपोरेट टैक्स में छूट दी। बैकों का मरज किया। लेकिन मंदी को खत्म नही कर पाए। भारत की अर्थव्यवस्था को लेकर विश्व बैंक ने भी कहा है कि इस साल भारत की जीडीपी 5 प्र्तिशत रहने का अनुमान है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *