एक्शन मोड में आई झारखंड सरकार, गिरफ्तारी के एक दिन बाद अब किया निलंबन….

झारखंड का सबसे बड़ा मामले में खनन सचिव पूजा सिंघल (IAS Officer Pooja Singhal) को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने जहां पर बीते दिनों गिरफ्तार किया था वहीं पर आज कार्रवाई में निलंबित कर दिया गया है। बता दें कि, (ईडी) ने खूंटी में मनरेगा निधि के कथित गबन और अन्य संदिग्ध वित्तीय लेन-देन के मामले में बड़ी कार्रवाई की थी।

जानें किस मामले पर हुई कार्रवाई
आपको बताते चलें कि, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 2009-2010 के दौरान खनन सचिव पूजा सिंघल खूंटी में डिप्टी कमिश्नर के पद पर नियुक्त थी उस दौरान ही महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) निधि के गबन और अन्य संदिग्ध वित्तीय लेन-देन का मामला चर्चा में आया था जिस पर ही फाइल खुलने के बाद कार्रवाई शुरू हुई थी। इस मामले में ईडी ने लगातार दो दिन की पूछताछ के बाद हिरासत में लिया था जहां पर वे पूछताछ के दौरान टालमटोल कर रही थी। इस मामले में ईडी के वकील बीएमपी सिंह ने कहा कि सिंघल को जेल भेज दिया गया है और आज रिमांड पर भेजा जाएगा। इस मामले पर लगातार पूछताछ की जा रही थी जिसमें उनके पति अभिषेक झा का बयान भी लिया गया था।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दिया बयान
आपको बताते चलें कि, आईएस अधिकारी की गिरफ्तारी पर सीएम हेमंत सोरेन का बयान सामने आया था। जिसमें कहा था कि, राज्य सरकार को इस विषय में जो भी कानूनी कार्रवाई करनी होगी, वह शुरू करेगी.’‘आप (भाजपा) उनसे गलत काम करवाते हैं और आप ही उन्हें क्लीनचिट देते हैं.’

यह भी पढ़ें:

उप्र सरकार ने डीजीपी मुकुल गोयल को पद से हटाया