अडानी ग्रुप ने खर्च किए 212 करोड़ रुपये, गौतम अडानी ने बताया आगे का प्लान

5जी स्पेक्ट्रम नीलामी की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इस नीलामी में एशिया के सबसे रईस अरबपति गौतम अडानी के समूह ने भी हिस्सा लिया। अडानी समूह ने 212 करोड़ रुपये में 26 गीगाहर्ट्ज मिलीमीटर वेव बैंड में स्पेक्ट्रम खरीदा है, जिससे वह अपने कारोबार और डेटा केंद्रों को मजबूती देगा।

क्या है योजना: अडानी समूह की योजना डेटा केंद्रों के साथ ही अपने सुपर ऐप के लिए स्पेक्ट्रम का उपयोग करने की है। इस सुपर ऐप को बिजली वितरण से लेकर हवाईअड्डों तक और गैस की खुदरा बिक्री से लेकर बंदरगाहों तक व्यवसायों का समर्थन करने के लिए तैयार किया जा रहा है।

वहीं, गौतम अडानी ने कहा कि उनके बंदरगाह से लेकर ऊर्जा तक फैले औद्योगिक 5जी क्षेत्र में प्रवेश करने से उनकी कंपनियों को नई अतिरिक्त सेवाओं की पेशकश में मदद मिलेगी। आपको बता दें कि अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड की इकाई अडानी डेटा नेटवर्क्स लिमिटेड (एडीएनएल) ने नीलामी में 20 वर्षों के लिए 26 गीगाहर्ट्ज मिलीमीटर वेव बैंड में 400 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम का उपयोग करने का अधिकार हासिल किया है।

समूह ने नीलामी में बेचे गए सभी स्पेक्ट्रम का एक प्रतिशत से भी कम खरीदा और इसका खरीद मूल्य सरकार को मिले 1.5 लाख करोड़ रुपये की बोलियों का एक छोटा सा अंश था।

यह पढ़े: सरकारी बैंक का मुनाफा 22% गिरा, डूबे हुए कर्ज पर आई अच्छी खबर