बच्चों में डालें मेडिटेशन की आदत, मिलेंगे जबर्दस्त फायदे

आज के युग में जब बच्चों से लेकर बड़ों तक हर व्यक्ति किसी न किसी तरह के तनाव से गुजर रहा है तो ऐसे में मानसिक शांति के लिए मेडिटेशन बेहद फायदेमंद होता है। आमतौर पर, व्यस्क लोग तो मेडिटेशन करते हैं, लेकिन बच्चों को मेडिटेशन करने पर जोर नहीं देते। पर वास्तव में यह बच्चों के लिए बेहद लाभकारी है। मेडिटेशन करने से न सिर्फ आपकी एकाग्रता बढ़ती है, बल्कि आपकी कार्यक्षमता भी बढ़ जाती है। जो बच्चे बहुत अधिक चंचल होते हैं, उन्हें खास तौर पर मेडिटेशन करवाना चाहिए-

ऐसे करें मेडिटेशन

शुरूआत मंे बच्चों के लिए मेडिटेशन करना थोड़ा कठिन हो सकता है, इसलिए उन्हें आसान तरीके से मेडिटेशन करना सिखाएं। इसके लिए बच्चों को सुबह-सुबह अपने साथ पार्क में ले जाएं या फिर किसी ऐसी जगह जहां बहुत शांति हो। वहां आप चौकड़ी मारकर बैठ जाएं और बच्चे को भी ठीक वैसा ही करने को कहें। अब बच्चे को आंखें बंद करने को कहें। उसे बताएं कि वह रिलैक्स होकर कमर सीधी करके बैठे व किसी चीज के बारे में कुछ न सोचे। बच्चे को धीरे.धीरे लंबी सांसें लेने के लिए कहें। आप चाहें तो शुरुआत में रिलैक्स करने वाला कोई गाना भी लगा सकते हैं ताकि बच्चे का इधर-उधर ध्यान ना भटके। बच्चे को इसी गाने पर रिलैक्स होने के लिए कहें।

जाने फायदे

बच्चे को मेडिटेशन करने से कई फायदे मिलते हैं। मेडिटेशन के जरिए मन को शांत किया जाता है। जब बच्चा प्रतिदिन मेडिटेशन करता है, तो उन्हें अपने मन पर काबू करने में मदद मिलती है।

इसके अतिरिक्त बच्चे की क्रियाशीलता बढ़ती है और उन्हें ध्यान एकाग्र करने में भी मदद मिलती है। जिसका फायदा उन्हें पढ़ाई में भी होता है।