डालें बिना तकिया लगाए सोने की आदत, मिलेंगा यह लाभ

बहुत से लोग ऐसे होते हैं, जिन्हें सोते समय यदि तकिया न मिले तो ठीक से नींद ही नहीं आती। तकिया लगाकर सोने की आदत में भले ही आपको कोई बुराई नजर न आती हो लेकिन क्या आप इस बात से वाकिफ हैं कि बिना तकिया लगाए आप कई तरह के स्वास्थ्य लाभ उठा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ लाभों के बारे में-

जिन लोगों को हमेशा ही कमर या पीठ में दर्द की शिकायत रहती है, उन्हें बिना तकिए के सोने की आदत डालनी चाहिए। दरअसल यह समस्या रीढ़ की हड्डी के कारण होती है, जिसका प्रमुख कारण आपका सोने का तरीका है। बगैर तकिये के सोने पर रीढ़ की हड्डी बिल्कुल सीधी रहेगी और आपकी यह समस्या कम हो जाएगी।

कमर की तरह ही गर्दन और कंधों में दर्द का एक कारण आपका तकिया भी हो सकता है। बिना तकिये के सोने पर इन अंगों में रक्त संचार बेहतर होगा और आप दर्द से निजात पा सकेंगे।

तकिए का चुनाव भी कई समस्याओं की जड़ बनता है। यदि तकिया कड़क है तो यह आपके मस्तिष्क पर बेवजह दबाव बना सकता है जिससे मानसिक विकार की संभावना बढ़ जाती है।

कुछ लोग पेट के बल सोते हैं, जिसका अर्थ है कि आपका मुंह तकिए की तरफ है। आपको शायद पता न हो लेकिन यह आदत आपके चेहरे पर झुर्रियां पैदा कर सकती है। इसके अलावा यह तरीका आपके चेहरे पर घंटों तक दबाव बनाए रखता है जिससे रक्त संचार प्रभावित होता है और चेहरे की समस्याएं उभरती हैं।