अपनाये ये आसान उपाय अगर आपको है भूलने की बीमारी

वर्तमान समय में तनाव से भरी इस भागदौड़ भरी जिंदंगी में बात-बात पर भूलने की आदत बहुत ही आम हो गई है। पहले तो यह गंभीर समस्या अधिक उम्र के लोगों को होती थी लेकिन अब यह समस्या कम उम्र के बच्चों में भी देखने को मिलती है। छोटी-छोटी चीजों को भूलने पर आप उसे पूर्ण्तः इग्नोर कर देते है लेकिन धीरे-धीरे यह आदत अल्जाइमर या डिमेंशिया बीमारी का रूप ले लेती है। क्या आपको पता है प्रतिदिन छोटी-छोटी बातें भूलने के पीछे क्या कारण होते हैं। आज हम आपको बात-बात पर भूलने की बीमारी के कुछ ऐसे महत्वपूर्ण कारण बताएंगे, जिन्हें जानकर आप इस गंभीर समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

याददाश्त मजबूत रखने के उपाय

याददाश्त मजबूत रखने के लिए अपनी डाइट में बादाम और ड्राई फ्रूट्स को शामिल करें।

हरी सब्जियों फलियां, साबुत अनाज, मछली, जैतून का तेल और फलों का सेवन भी दिमाग को तेज करने में मदद करता है। इसलिए रोजाना इनका सेवन करें।

यदि बढ़ती उम्र में लोग अपना काम खुद करते हैं तो उन्हें अल्जाइमर रोग होने का खतरा कम होता है और याददाश्त भी तेज होती है।

भूलने की बीमारी के दौरान दिमाग में बढ़ने वाले जहरीले बीटा-एमिलॉयड नामक प्रोटीन के प्रभाव को ग्रीन टी के सेवन से कम किया जा सकता है।

रोजाना कम से कम 15-20 मिनट व्यायाम जरूर करें। इसके अलावा सुबह-शाम 10 मिनट की सैर से भी भूलने की प्रॉब्लम को कम किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें-

सेहत के लिए इन फलों के बीज होते हैं फायदेमंद