एयर इंडिया के बाद अब केंद्र सरकार की इन सरकारी टेलीकॉम कंपनियों को बेचने की योजना

केंद्र की मोदी सरकार ने पैसा जुटाने के लिए सार्वजनिक क्षेत्र की दो दूरसंचार कंपनियों बीएसएनएल और एमटीएनएल की संपत्ति बेचने की योजना बनाई है। इन कंपनियों की 970 करोड़ रुपये की संपत्ति की सूची प्रकाशित की गई है.

डिपार्टमेंट ऑफ इन्वेस्टमेंट एंड पब्लिक असेसमेंट मैनेजमेंट (दीपम) की वेबसाइट पर अपलोड किए गए दस्तावेजों के मुताबिक, संपत्ति को 970 करोड़ रुपये के आरक्षित मूल्य पर बिक्री के लिए रखा गया है। संपत्ति गोरेगांव, मुंबई में स्थित है।

हैदराबाद, चंडीगढ़, भावनगर और कोलकाता में बीएसएनएल की संपत्ति करीब 660 करोड़ रुपये है जबकि गोरेगांव के वसारी हिल में एमटीएनएल की संपत्ति 310 करोड़ रुपये है।बीएसएनएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक के अनुसार, बीएसएनएल और एमटीएनएल की संपत्ति से धन जुटाने का पहला चरण चल रहा है। दोनों दूरसंचार संपत्तियों की बिक्री के लिए बोलियां आमंत्रित की गईं। डेढ़ महीने में प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।

यह पढ़े: भारत अपने रणनीतिक क्रूड ऑइल भंडार में से करीब 50 लाख बैरल कच्चा तेल अगले 7 दिनों में छोड़ेगा