कई तरह की स्वास्थ दिक्कतें खड़ा कर सकता है एडेड शुगर

अगर आपका बच्चा ताजे फल और हरी सब्जियों की तुलना में ‘एडेड शुगर’ युक्त ड्रिंक्स मसलन सोडा, स्पोट्र्स और एनर्जी ड्रिंक का ज्यादा सेवन करता है तो सावधान हो जाएं। यह उसे दिल की बीमारियां दे सकता है। एडेड शुगर का आमतौर पर खाद्य पदार्थों व ड्रिंक्स के उत्पादन के समय इस्तेमाल किया जाता है। इसका ज्यादा सेवन उनके लिए कई तरह की स्वास्थ संबंधी दिक्कतें भी खड़ी कर सकता है।

हाल ही में किए गए एक अध्ययन के अनुसार, अगर दो साल से लेकर 18 साल के बच्चे रोजाना छह चम्मच से ज्यादा एडेड शुगर लेते हैं तो उन्हें आने वाले समय में मोटापा और ब्लड प्रेशर का सामना करना प़ड सकता है। ये दिल की बीमारी के प्रमुख कारण हैं। अमेरिका की एमोरी यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर ने कहा, ‘बच्चों को एडेड शुगर की जगह स्वस्थ आहार जैसे फल, सब्जियां, साबुत अनाज और कम वसा वाले दुग्ध उत्पादों का सेवन करना चाहिए। ये उनकी सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।’