अमेरिका से भारत पहुंचा ‘एयर इंडिया वन’ विमान, मिसाइल हमला भी होगा बेअसर

वीवीआईपी विमान ‘एयर इंडिया वन’ अमेरिका से उड़ान भरकर गुरुवार शाम दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंच गया हैं। ये विमान हाई सिक्योरिटी से लैस हैं, जिनका उपयोग भारत में राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री, ही कर सकेंगे। दो बोइंग-777-300 ईआर विमान एडवांस कम्युनिकेशन सिस्टम से लैस है, जिन्हें ना तो हैक किया जा सकता हैं और ना ही टैप किया जा सकता हैं। ये विमान मिड-एयर में ऑडियो और वीडियो कम्युनिकेशन फंक्शन की सुविधा देते है।

दो बोइंग 777-300 एक्सटेंडेड रेंज एयरक्राफ्ट में से पहला, उन्नत सुरक्षा प्रणाली के साथ रेट्रोफिटेड है, जो किसी भी तरह के मिसाइल हमले को नाकाम कर सकता हैं। इनमें एन्क्रिप्टेड संचार सुविधाओं को जाम और पराजित किये जाने की सुविधा हैं। इस प्रकार के विमान भारत ने अमेरिका से विशेष आग्रह पर तैयार करवाए हैं। आपको बता दे इस प्रकार की सुरक्षा प्रणालियों से लैस विमान अमेरिका के राष्ट्रपति द्वारा देश-विदेश की यात्राओं में इस्तेमाल किये जाते हैं।

‘एयर इंडिया वन’ में लार्ज एयरक्राफ्ट इन्फ्रारेड काउंटर्मेशर (LAIRCM) तकनीक है, जिससे इन विमानों पर मिसाइलों से हमला संभव नहीं होगा। इन विमानों के लिए अमेरिका के साथ शामिल विदेशी सैन्य बिक्री सौदे में 1,365 करोड़ की लागत आई हैं। इन विमानों में सेल्फ प्रोटेक्शन स्वीट भी होगा।

यह भी पढ़े: हम पर चली लाठियां हाथरस की बेटी की रक्षा के लिए चलतीं तो बेहतर होता: प्रियंका गांधी
यह भी पढ़े: ओमान ने भारत के साथ किया एयर बबल करार, ऐसा करने वाला 16वां देश बना