सर्वदलीय बैठक में सभी राजनीतिक दलों ने चीन के खिलाफ भरी हुंकार, PM मोदी ने कही यह बात

प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार (19जून) को चीन के खिलाफ चल रहे तनाव को लेकर सर्वदलीय बैठक आमंत्रित की। इस दौरान शिवसेना, बीजेपी, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, अकाली दल समेत देशभर के तमाम विपक्षी दल मौजूद रहे। बैठक में पांच से अधिक सांसदों वाले दलों को बुलाया गया। लेकिन दिल्ली की सत्ताधारी ‘आम आदमी पार्टी’ को बैठक में नहीं बुलाये जाने पर एक बार फिर से केंद्र सरकार और आप के बीच के मतभेद उभरकर सामने आ गए है।

बैठक में ‘आप’ को आमंत्रित नहीं करने पर पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि संकट के समय में सभी को एकजुट रहते हुए आगे बढ़ने की जरूरत है। दूसरी तरफ सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने सभी दलों से चीन के खिलाफ एकजुटता दिखाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि हमारे देश की तरफ कोई भी आंख उठाकर नहीं देख सकता। हमारी सेना जल, थल, नभ में देश की रक्षा के लिए तत्पर है।

सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री ने राजनीतिक दलों से कहा की आज के समय में देश के पास वो क्षमता है, जिससे कोई भी हमारी जमीन के एक इंच हिस्से को भी नहीं ले सकता है। हमारी सेना एक बार में कई क्षेत्रों में जाने की क्षमता रखती है। पीएम ने कहा कि पिछले वर्षों में हमने सीमा की रक्षा के लिए बुनियादी ढांचे के विकास को महत्व दिया है। सशस्त्र बलों की आवश्यकताएं, चाहे वह लड़ाकू विमान हों, उन्नत हेलीकॉप्टर हो, मिसाइल रक्षा प्रणालियां।

यह भी पढ़े: भारत मजबूर नहीं मजबूत, आंखें निकालकर हाथ में दे सकती है हमारी सरकार- उद्धव ठाकरे
यह भी पढ़े: सभी उधोगों में बैन हो चीन की भारत में एंट्री, हम सरकार के साथ मजबूती से खड़े- ममता बनर्जी