धोनी के पीछे-पीछे चले ऑलराउंडर सुरेश रैना, इंटरनेशनल क्रिकेट से हुए रिटायर

भारतीय क्रिकेट टीम के बेस्ट फिनिशर, विकेटकीपर और सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आज इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायमेंट का एलान कर दिया। उनके साथ-साथ बाएं हाथ के अनुभवी ऑलराउंडर और धोनी के सबसे खास दोस्त सुरेश रैना ने भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है।

2005 में वनडे डेब्यू करने वाले सुरेश रैना धोनी के नेतृत्व वाली 2011 विश्व कप विजेता टीम के अहम सदस्य रहे थे। मिडिल ऑर्डर में तेज-तर्रार बल्लेबाजी, कामचलाऊ स्पिन गेंदबाजी और अपनी जबर्दस्त फील्डिंग के दम पर रैना ने ना सिर्फ इंटरनेशनल क्रिकेट बल्कि अन्य टूर्नामेंटों में भी ख्याति अर्जित की है।

रैना ने भारत के लिए 18 टेस्ट, 226 वनडे और 78 टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबले खेले हैं। इस बीच उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 7000 से ज्यादा रन बनाए हैं। टेस्ट क्रिकेट में 768 रन रैना के नाम दर्ज है, इसमें एक शतक और  7 अर्धशतक  शामिल रहे। वनडे में 5 शतक और 36 अर्धशतक की मदद से  5615 रन दर्ज हैं।

रैना का वनडे में बेस्ट स्कोर नाबाद 116 रन रहा। 78 टी-20 में रैना ने कुल 1605 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक और पांच अर्धशतक शामिल हैं। बता दे रैना ने इंस्टाग्राम पर केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी, अंबाती रायडू, कर्ण शर्मा और मोनू सिंह के साथ तस्वीर शेयर कर रिटायरमेंट का एलान किया है।

उन्होंने कैप्शन दिया- यह आपके साथ खेलना काफी प्यारा रहा महेंद्र सिंह धोनी। पूरे दिल से गर्व के साथ, मैं आपकी इस यात्रा में शामिल होना चाहता हूं। शुक्रिया भारत। जय हिंद। फिलहाल सुरेश रैना और महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल 2020 के लिए चेन्नई सुपर किंग्स के ट्रेनिंग कैंप के लिए चेन्नई में हैं।

यह भी पढ़े: क्या है ‘नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन’, जिसका PM मोदी ने लाल किले से किया जिक्र
यह भी पढ़े: देश में बन रही कोरोना की तीन वैक्सीन, हर भारतीय तक पहुंचाने की रूप-रेखा तैयार: PM मोदी