मधुमेह को ठीक करने में मददगार है एलोवेरा

औषधीय गुणों से युक्त एलोवेरा को आपकी स्किन और सेहत के लिए कई तरह से लाभदायक माना जाता है। खासतौर से अगर आप मधुमेह पीडित हैं तो एलोवेरा का सेवन आपके लिए विशेष रूप से फायदेमंद होता है। तो चलिए जानते हैं मधुमेह रोगियों के लिए एलोवेरा से बनने वाले लाभदायक औषधि के बारे में-

दो चम्मच करेले के रस में आप दस ग्राम एलोवेरा का गूदा मिक्स करें और प्रतिदिन सुबह शाम भोजन से पहले इसका सेवन करें। इसके सेवन से आपके रक्त में शर्करा की मात्रा नियंत्रित होती है।

इसके अतिरिक्त नीम के पत्ते और एलोवेरा के रस को यदि सुबह खाली पेट पिया जाए तो इससे खून साफ होता है तथा शर्करा नियंत्रण में आ जाती है।

10 जामुनों को पानी में धोकर एलोवेरा के गूदे में मिलाकर उबाल लें और इससे तैयार पानी को खाना खाने से पहले आधा-आधा कप मधुमेह ग्रस्त रोगी को दें तो मधुमेह कम हो जाता है।

अगर आपको एलोवेरा को दवाई की तरह लेने में परेशानी होती है तो आप मूंगफली का आटा एवं एलोवेरा का गूदा मिलाकर रोटी बना लें। इसे खाने से कुछ ही दिनों में मधुमेह का ठीक हो जाता है।

वहीं गाय का कच्चा दूध और एलोवेरा का रस मिलाकर आधा-आधा कप पीने से भी मधुमेह रोग में लाभ होता है।