शुगर कंट्रोल करने के साथ ही दिल का भी ध्यान रखता है ड्रैगन फ़्रूट

ड्रैगन का नाम सुनते ही ज़हन में किसी विशाल जीव की छवि उभरती है, लेकिन यह कोई जीव नहीं बल्कि फ्रूट का नाम है। ड्रैगन फ्रूट का वैज्ञानिक नाम हिलोकेरेस अंडटस है जो साउथ अमेरिका में पाया जाता है। यह एक किस्म की बेल पर पैदा होने वाला फल है जिसके तने गूदेदार और रसीले होते हैं।

ड्रैगन फ्रूट में ऐंटी-ऑक्सिडेंट्स, फाइबर्स और विटमिन सी पाया जाता है जो कई गंभीर बीमारियों का उपचार करता है। ड्रैगन फ्रूट में बीटा कैरोटीन और लायकोपीन भी पाया जाता है जिससे कैंसर और हार्ट डिजीज का खतरा कम रहता है।

यह फ्रूट इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है, साथ ही पाचन को ठीक भी रखता है। आइए जानते हैं कि ड्रैगन फ्रूट शरीर को किस तरह फायदा पहुंचा सकता है।

दिल की सेहत का रखता है ख्याल:

ड्रैगन फ्रूट में मौजूद छोटे-छोटे काले बीज दिल को सेहतमंद रखते हैं। इन बीजों में ओमेगा-3 और ओमेगा-9 फैटी एसिड पाया जाता है जिससे दिल की सेहत ठीक रहती है और दिल स्ट्रॉन्ग होता है।

शुगर रखता है कंट्रोल:

ड्रैगन फ्रूट में मौजूद नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट, फ्लेवोनोइड, एस्कॉर्बिक एसिड, फेनोलिक एसिड और फाइबर ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। शुगर जैसी बीमारी से महफूज़ रहना चाहते हैं तो डाइट में ड्रैगन फ्रूट को शामिल करें।

इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग बनाता है:

ड्रैगन फ्रूट इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है। इसमें विटामिन-सी भरपूर मात्रा में होता है जिससे इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग होती है, साथ ही कई बीमारियों से बचाव भी होता है।

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल रखता है:

ड्रैगन फ्रूट बेड कोलेस्ट्रॉल यानि लिपोप्रोटीन कोलेस्ट्रॉल को कम करता है और गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है।

हड्डियां स्ट्रॉन्ग बनाता है:

ड्रैगन फ्रूट कैल्शियम, फास्फोरस और मैग्नीशियम का अच्छा स्रोत है जिससे हड्डियां स्ट्रॉन्ग बनती है। ड्रैगन फ्रूट में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट से गठिया का भी उपचार होता है।

यह भी पढ़ें- अगर बैठे-बैठे आपके भी हाथ-पैर हो जाते है सुन्न तो अवश्य पढ़ें यह खबर