जरूर पढ़िए: अजब चाय के गबज फायदें!

चाय पीना हर किसी को पसंद है, लेकिन चाय कई बार फायदे की जगह नुकसान भी पहुंचाती है। ऐसे में जरूरी है कि चाय जीभ के पसंद के अनुसार नहीं बल्कि अपनी मर्ज के अनुसार पिएं। यानी चाय ग्रीन ही अच्छी होती है। ग्रीन टी भी कई तरह की होती है। अगर आप अपने स्वास्थ्य व परेशानी को ध्यान में रख कर इसे पीएंगे तो इसके फायदे तेजी से होंगे। ग्रीन टी मूड बूस्टर के साथ ही सेहत के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होती होती है। तो आइए आज ग्रीन टी पर ही चर्चा करते हैं।

-बहुत तनाव महसूस कर रही हों या अंदर से भारीपन हो तो आपके लिए पिपरमिंट वाली ग्रीन टी सबसे बेहतर होगी। याद रखें की अलग से पिपरमिंट यूज कर रहे हैं तो मात्रा इसकी काफी कम रखें क्योंकि ज्यादा होते ही ये कड़वी हो जाएगी। ये चाय मूड बूस्टर होती है।

-रोज टी मूड बूस्टर होती है। साथ ही बेहद स्वादिष्ट भी। इसकी खूशबू से ही आपका मूड काफी खुशनुमा हो जाएगा।

-अगर आपकी मासपेशियों में तनाव हो तो आपके लिए जैस्मिन और कैनबेरी टी बहुत ही कारगर होगी। ये टी गैस्ट्रोइंस्टेटाइनल प्रॉब्लम में भी काम करेगी।

-अगर मिचली आ रही हो या मन का स्वाद फीका हो तो आप पिपरमिंट, जिंजर या रसबेरी टी को ले सकते हैं।

-अपनी खूबसूरती को निखारने के लिए आप कैलेंडुला, कैममाइल या वाइन टी को ले सकते हैं। साथ ही लाइकोराइस यानी मुलैठी वाली चाय बहुत ही फायदेमंद होगी।

-वेट लॉस के लिए लेमन-हनी टी के अलावा लाइकोराइस, केलेंडुला, बेसिल-जींजर टी को लें। इसके साथ ही कैममाइल , मिंट और लेमनग्रास टी भी बहुत उपयोगी होगी।

– सर्दी-जुखाम या खांसी में जिंजर-बेसिल, मिक्स हर्ब्स टी लें, इससे काफी राहत महसूस होगी। चाय में हनी का प्रयोग जरूर करें ताकि इम्यून सिस्टम मजबूत हो सके।

-दालचीनी की चाय वेट लॉस, मूड बूस्टर और खूबसूरती तीनों के लिए होती है। इस चाय को दिन में कम से कम तीन बार जरूर पीना चाहिए।

-हीबिसकस यानी गुड़हल के फूल की चाय भी वेट लॉस के साथ बालों और खूबसूरती के लिए बहुत उपयोगी है।