अमेरिकी कंपनी जनरल अटलांटिक ने 6,598.38 करोड़ रुपये में खरीदी जियो की 1.34 प्रतिशत हिस्सेदारी

फेसबुक के बाद अब अमेरिका की अग्रणी निवेश कंपनी जनरल अटलांटिक ने भारतीय कंपनी जियो में करीब छह हजार छह सौ करोड़ रुपये का निवेश किया है। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने रविवार को इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि जनरल अटलांटिक ने उसकी डिजिटल इकाई जियो प्लेटफॉर्म्स में 1.34 प्रतिशत हिस्सेदारी के लिए उसने 6,598.38 करोड़ रुपये अदा किये है। बता दे जनरल अटलांटिक का यह एशिया की किसी भी कंपनी में सबसे बड़ा निवेश है।

जनरल अटलांटिक से पहले जियो में फेसबुक, सिल्वर लेक पार्टनर्स और विस्टा इक्विटी पार्टनर्स भी निवेश कर चुके है। इन सभी कंपनियों के निवेश की मदद से जियो ने 67,194.75 करोड़ रुपये जुटाए हैं। जनरल अंटलांटिक ने जियो प्लेटफॉर्म्स की कीमत 4.91 लाख करोड़ रुपए आंकी है। रिलायंस जियो के बयान के मुताबिक रिलायंस जियो इंफ़ोकॉम लिमिटेड के 38 करोड़ 80 लाख ग्राहक है जो जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड की ”होल्ली ओन्ड सब्सिडियरी” बनी रहेगी।

जनरल अटलांटिक द्वारा जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश किये जाने के बाद मुकेश अंबानी ने कहा कि वह काफी खुश है। वह भागीदार के रूप में जनरल अटलांटिक का स्वागत करते है। वह कई दशकों से जनरल अटलांटिक से परिचित है और भारत की विकास क्षमता में विश्वास दिखाने के लिए उनका प्रशंसक हूं। भारत को डिजिटल सोसाइटी बनाने का हमारा और जनरल अटलांटिक का विजन साझा है और हमे विश्वास है कि हम इसमें कामयाब रहेंगे।

यह भी पढ़े: लॉकडाउन 4 में शादी समारोह और अंतिम संस्कार के लिए ये हैं केंद्र सरकार के आदेश
यह भी पढ़े: देश में 31 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन 4, जानें क्या रहेगा बंद और किसे मिली अनुमति

Loading...