Uric Acid को कंट्रोल करने में रामबाण है सेब, जानिए कब और कैसे करें इसका सेवन

ब्लड स्ट्रीम में हाई यूरिक एसिड की उपस्थिति गाउट का कारण बन सकती है। इस स्थिति को रोकने के लिए, अपने खाने की आदतों पर ध्यान रखना आवश्यक है। एक हेल्दी डाइट और सही दवा आपके यूरिक एसिड को कंट्रोल रखने में मदद कर सकता है। यूरिक एसिड वाले मरीजों को जोड़ों में दर्द और सूजन की समस्या हो जाती है। यूरिक एसिड आपके ब्लड और यूरिन को अधिक एसिडिक कर देता है, जिसके कारण कई समस्याएं होने लगती है। इस समस्या को कंट्रोल करने के लिए अपनी डाइट में सेब को जरूर शामिल करें। आइए जानते हैं सेब के अलावा और किन फूड्स को डाइट में शामिल करना चाहिए-

सेब: अपनी डाइट में सेब को जरूर शामिल करें। चूंकि वे मैलिक एसिड से समृद्ध होते हैं, वे ब्लड स्ट्रीम में यूरिक एसिड को बेअसर करते हैं। यह उन रोगियों को राहत देता है जो हाई यूरिक एसिड की स्थिति से पीड़ित हैं। रोजाना कम से कम 2 सेब अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। इससे ना सिर्फ यूरिक एसिड कंट्रोल होगा, बल्कि उसके लक्षणों से भी राहत मिलेगी।

सेब का सिरका: हाई यूरिक एसिड से पीड़ित लोगों के लिए सेब का सिरका भी फायदेमंद है। आप 1 गिलास पानी में 3 चम्मच सिरका मिलाएं और इसे हर दिन 2-3 बार जरूर पिएं। सेब का सिरका पीने से हाई यूरिक एसिड को कम करने में मदद मिलती है।

चेरी: चेरी में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होता है जिसे एंथोसायनिन के रूप में भी जाना जाता है। यह यूरिक एसिड के स्तर को कम करने में मदद करता है। यह यूरिक एसिड को जोड़ों में जमा होने से भी रोकता है। इसके अलावा चेरी एसिड को बेअसर करता है और सूजन और दर्द को रोकने में भी मदद करता है।

जामुन: जामुन, विशेष रूप से स्ट्रॉबेरी और ब्लूबेरी का सेवन करें। ब्लड में हाई यूरिक एसिड के स्तर को रोकने में मदद करता है, साथ ही इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण जोड़ों के दर्द और सूजन से आराम दिलाता है।

लो फैट डेयरी प्रोडक्ट्स: हाई यूरिक एसिड का इलाज करने का एक अन्य तरीका अपनी डाइट में लो फैट वाले डेयरी प्रोडक्ट्स को शामिल करना है। लो फैट मिल्क और दही को अपनी डाइट में शामिल करें। यह आपके ब्लड में उच्च यूरिक एसिड को रोकने में मदद करता है।

यह भी पढ़े-

वेब सीरीज इश्कियां में नजर आएंगे हितेन तेजवानी, पहले कभी नहीं निभाया ऐसा किरदार