भोजन के पाचन में सहायता करता है सेब का सिरका, जानिए इसके अन्य फायदे

आप सभी सेब के गुणों से तो भालिभातीं परिचित ही होगें, मगर आज जाने क्या है सेब के सिरके का महत्व, जो आप के दैनिक दिनचर्या के लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी और सरल है। सेब के सिरके के खट्टे स्वाद के कारण इसे सफाई करने वाले कारक तथा प्रतिविष के रूप में प्रयोग किया जाता है। सेब के सिरके में ऐसेटिक अम्ल होता है जिससे आहारनाल के हानिकारक जीवाणु और फफूँदी का सफाया करने में बहुत ज्यादा मदद मिलती है।

इससे आँत में भोजन के पाचन और पोषक तत्वों के अवशोषण में सहायता मिलती है। सेब के सिरके में पेक्टिन भी होता है जो जल में घुलनशील रेशे के रूप में मौजूद होता है और पाचन तन्त्र से पानी, वसा, विष पदार्थों और कोलेस्ट्रॉल को अवशोषित कर शरीर के बाहर करने में सहायक होता है।

खनिज लवण से भरपूर

सेब के रस वाले सिरके में पोटैशियम, मैग्नीशियम और कई अन्य खनिज लवण होते हैं। पोटैशियम शरीर में जल संतुलन के साथ-साथ हृदय की धड़कन को नियन्त्रित करता है। मैग्नीशियम कई प्रकार की प्रक्रियाओं में उत्प्रेरक का कार्य करता है जिससे पाचन में मदद मिलती है और कैल्शियम का अवशोषण बढ़ा कर स्वस्थ हड्डियों के निर्माण में सहायक है।

ब्लड सुगर को भी कम करने में बेहद कारगर

सेब के रस वाले सिरके में ऐसेटिक अम्ल होता है, जो मण्ड के पाचन को मन्द करता है जिससे रक्तवाहिनियों में शर्करा का स्तर कम होता है। ४ से ३५ % तक रक्त में उपस्थित सुगर को कम करता है।

कोलेस्ट्रोल को भी कम करने में मददगार

सेब के रस वाले सिरके में पेक्टिन की उपस्थिति से शरीर में व्यर्थ का कोलेस्ट्रॉल कम होता है। कुठ लोगों को पेक्टिन से एलर्जी होती है इसलिये उन्हे सेब के रस वाले सिरके से बचना चाहिये।

त्वचा और सौंर्दय में

सेब के रस वाले सिरके एक ऐस्ट्रिन्जेन्ट होता है जिसके कारण यह चेहरे और गले की त्वचा को स्वस्थ बनाता है। इसे आँखों से दूर रखें क्योंकि इससे जलन हो सकती है।

वजन कम करने में उपयोगी

सेब के रस वाले सिरके से रक्त शर्करा के नियन्त्रित होने के कारम यह वजन कम करने में सहायक है क्योंकि इन्सुलिन मुक्त शर्करा को वसा के रूप में संचित नहीं कर पायेगी। ये एक माह में २ से ४ किलो तक वजन कम कर सकता है।