मधुमेह के इन शुरूआती लक्षणों से वाकिफ हैं आप

भारत में हर घर में आपको कोई न कोई व्यक्ति मधुमेह पीडित मिल ही जाएगा। आमतौर पर इसे सामान्य बीमारी की श्रेणी में ही गिना जाता है, जबकि वास्तव में यह आपको काफी नुकसान पहुंचाता है। यह एक ऐसी बीमारी है, जिसकी यदि सही समय पर पहचान न हो तो इससे आपको काफी नुकसान उठाना पड सकता है। तो चलिए जानते हैं डायबिटीज के शुरूआती लक्षणों के बारे में-

  • मधुमेह पीडित होने पर न सिर्फ व्यक्ति की भूख बढती है, बल्कि वह हर समय थकान, असामान्य कमजोरी व मानसिक तनाव भी महसूस करता है।
  • इसके अतिरिक्त बार-बार पेशाब आना भी मधुमेह पीडित होने का एक मुख्य लक्षण है। इतना ही नहीं, मधुमेह में बार-बार पेशाब आने से आपको अधिक प्यास लगती है और पानी की शरीर से अत्यधिक निकासी के कारण निर्जलीकरण की समस्या उत्पन्न होती है, जिसके कारण जीभ सूख जाती है और होंठ फटने लगते हैं।
  • वहीं ऐसे लोगों के वजन में भी कमी आती है और किसी प्रकार की चोट लगने पर घावों को भरने में अधिक समय लगता है।
  • जिन लोगों का मधुमेह बढ जाता है, उन्हें उंगलियों में दर्द तथा उंगलियों का सुन्न पड़ जाना अथवा उनमें कपकपाहट का अहसास होता है। ऐसे लोगों के हाथ भी कांपने लगते हैं।
  • इन सबके अतिरिक्त चिड़चिड़ापन, मतली और उल्टी का अहसास होना, त्वचा में सूखापन, बालों का झड़ना, नज़र में धुंधलापन एवं आंखों की अन्य समस्याएं इशारा करती हैं कि शायद अब आप मधुमेह की गिरफत में आ चुके हैं।