क्या आप परेशान है अनियमित माहवारी से? तो अपनाए ये उपाय

अनियमित माहवारी या मासिक धर्म की समस्या आज के युग में आम बनती जा रही है।  इसका मुख्य कारण है सुस्त जीवन शैली। अनियमित खान पान, हार्मोन्स में बदलाव , वजन का बढ़ना, रक्त की कमी, अनिद्रा आदि ।

महिलाओ के लिए मासिक धर्म का होना उनके शरीर के लिए बहुत जरुरी होता है। मासिक धर्म  का एक पूरा चक्र 28 दिनों का होता है। कई महिलाओ को अनियमित माहवारी की समस्या रहती है। अनियमित मासिक धर्म का अर्थ है पीरियड्स का न होना। कुछ महिलाओ को महीने, दो महीने में पीरियड्स होते है तो कई महिलाओ को महीने में 2-3 बार।  ये दोनों की लक्षण अनियमित माहवारी के है। अनियमित मासिक धर्म महिलाओ के शादीशुदा जीवन को भी प्रभावित कर सकती है और उन्हें प्रेगनेंसी से सम्बन्धित परेशानी भी हो सकती है।  ये कोई गंभीर समस्या नहीं है जिसका कोई इलाज़ न हो।  ऐसे बहुत से घरेलू उपचार है जिन्हे अपनाकर आप अनियमित माहवारी की समस्या से बच सकती है।  आइये जानते है कुछ आसान से घरेलु उपाय –

1 अपने खान पान में हरी सब्जियों को शामिल करे। किन्तु पीरियड्स की डेट आने के पहले प्रोटीन व हरी सब्जियों के सेवन को कम कर दे।

2 आप इस समस्या को चुकंदर व गाजर के रस के सेवन से भी कम कर सकती है। गाजर व चुकंदर का रस खून की कमी को दूर करता है।

3 नियमित रूप से व्यायाम करें। व्यायाम करने से भी अनियमित मासिक धर्म की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।  अनियमित माहवारी से बचने के लिए करेले का काढ़ा  दिन में दो बार पीए।  अंगूर का जूस पीने से भी इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

4 मसाले युक्त व जंक फ़ूड को अवॉयड करें। तली हुई चीज़ो से भी परहेज़ करे।

5 नियमित पीरियड्स के लिए गुड़ और जीरे को मिक्स करके खाएं।

6 वजन खटाने के चक्कर में आप नाश्ता या एक टाइम का खाना अवॉयड करती है। ऐसा बिलकुल न करे।  नाश्ता व खाना 3 टाई अवश्य खाएं।

7 पीरियड्स नियमित करने के लिए दालचीनी व नीबू का पाउडर मिलकर इसका सेवन रोजाना करें।

8 पौष्टिक व संतुलित भोजन का सेवन करें। सब्जी, फल, डालें, अनाज और दूध से बानी चीज़ो का सेवन करें।

9 नीम की छाल को पानी में भिगो दें। अगले दिन छाल को पानी से निकाल ले और इस पानी का सेवन दिन में 3 बार करें। इससे आपके पीरियड्स नियमित हो जाएंगे।

इन छोटे छोटे घरेलु नुस्खों को अपनाकर आप अनियमित माहवारी से छुटकारा पा सकेगी।

 

Loading...