सेहत के लिए अरोमा का जादू लाभदायक है

यह एक बहुत ही ज्यादा प्राचीन आयुर्वैदिक पद्धति है जिसका प्रयोग बहुत से रोगों के निदान में किया जाता है। यह स्वास्थ्य के लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक होता है। “अरोमा” का अर्थ होता है “खुशबु” यानी अरोमाथैरेपी एक ऐसी चिकित्सा पद्धति है, जिसमें बहुत सारे रोगों का इलाज़ विभिन्न प्रकार की प्राकृतिक खुशबुओं का प्रयोग करके किया जा सकता है। अरोमाथेरेपी में जिन एसेंशियल ऑइल्स का इस्तेमाल किया जाता है जो कि प्लांट्स, हर्ब्स, पेड़ों, फूलों आदि का तत्व होता है जिनसे होने वाले फायदों के आप बहुत ज्यादा कायल हो जाएंगे। क्या हैं फायदे?

– बंद नाक खोले
इन दिनों बदलते मौसम में जुकाम की समस्या बहुत ही ज्यादा आम है, जिसमें बंद नाक परेशानी का कारण भी बन जाता है। ऐसे में अगर आप नीलगिरी के तेल की कुछ बुंदें डाल कर स्टीम लें तो आपको बंद नाक से फ़ौरन मुक्ति भी मिल जाएगी।

– सिर दर्द भगाएं
आज हर इंसान अपनी लाइफ में इतना ज्यादा बिजी हो गया है। आजकल लोगों की दिनचर्या ऐसी है कि उनको आए दिन सिरदर्द की गंभीर समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे में रोजमेरी ,लैवेंडर व पुदीने की खुशबु सिरदर्द की समस्या से बहुत ही जल्दी निजात दिला सकती है।

– डाइजेशन सुधारे
जिन लोगों को डाइजेशन की से सम्बंधित कोई समस्या है तो इसमे अरोमाथैरेपी रामबाण का काम करता है। तुलसी और चंदन की खुशबु डाइजेशन से सम्बंधित समस्या को दूर करने में भी यह बहुत ही ज्यादा प्रभावी है।

– अनिद्रानाशक
कई लोगों को नींद ना आने की भी समस्या बहुत ही गंभीर होती है ऐसे में लैवेंडर , कैमोमाइल , नारंगी आदि खुशबुए भी नींद लेने में बहुत ही ज्यादा कारगर सिद्ध होती हैं। फिर चाहे आप इनके लिए अरोमालैम्प का प्रयोग करें या फिर ऑइल का। इसके अलावा अच्छी नींद के लिए आप तकिये के नीचे लैवेंडर रख कर भी आप सो सकते हैं।

– डिप्रैशन से मुक्ति
जैस्मिन और कैमोमाइल की खुशबु ना सिर्फ डिप्रेशन जैसी समस्या से हमे राहत दिलाती है बल्कि यह मूड पर भी बहुत ज्यादा सकारात्मक प्रभाव डालती है।

– खूबसूरती बढ़ाएं
रोज़ और जैरेनियम ऑयल में यह गुण मौजूद होता है जो धुप से झुलसी हुई त्वचा को ठीक कर के उसे एक जबरदस्त चमक देती है। इसके अलावा ट्री ऑयल पिम्पल को भी ठीक करता है तो वहीं रोज़ ऑयल त्वचा को ग्लो दे कर उसकी बहुत ज्यादा खूबसूरती बढ़ता है।

– फर्टिलिटी बढ़ाएं
शायद आपको सुन कर अजीब लग सकता है जीरे के तेल का प्रयोग फर्टिलिटी बढ़ने के काम में भी बहुत आता है।

यह भी पढ़ें –