जलियांवाला बाग की नई गैलरी में लगाई गई अर्धनग्न तस्वीरें, पीएम से की जांच की मांग

जलियांवाला बाग में 15 फरवरी से विकास कार्य चल रहा है, जिसे 20 करोड़ की लागत में किया जा रहा है। इस दौरान नई गैलरी बनाई गई है, जिसमें दो महिलाओं की अर्धनग्न तस्वीरें लगा दी गई हैं। ये तस्वीरें गैलरी के उस हिस्से में लगाई गई है, जहां पर पंजाब के अब तक के इतिहास के बारे में बताया गया है। शेर -ए-पंजाब महाराजा रंजीत सिंह द्वारा लड़ी गई लड़ाइयों के चित्रों के नीचे इन तस्वीरों को नई गैलरी में लगाया गया है। अब इसे लेकर विवाद हो गया है।

इंटरनेशनल सर्व कम्बोज समाज ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर इन तस्वीरों को लगाने पर आपत्ति दर्ज करवाई है। साथ ही पूरे मामले की जांच करवाने की मांग की है। तस्वीरों के दाईं तरफ स्थित दीवार के ऊपर वाले हिस्से में श्री गुरु नानक देव की तस्वीर है और इसके कुछ नीचे खड्ग हाथ में लिए महाराजा रंजीत सिंह की तस्वीर है। साथ ही बड़ा स्टैच्यू बाबा बंदा सिंह बहादुर का भी लगाया गया है। पर्यटकों को यहां गदरी बाबाओं के बारे में जानने का मौका मिलेगा।

इंटरनेशनल सर्व कम्बोज समाज ने जलियांवाला बाग में स्थित अर्ध नग्न तस्वीरों पर विरोध प्रकट किया है। समाज अध्यक्ष शिंदर पाल सिंह कम्बोज का कहना है कि गैलरी का सभी कार्य सांसद श्वेत मालिक की देख रेख में हो रहा है इसलिए वही इन तस्वीरों को लगाने के जिम्मेदार है। समाज ने प्रधानमंत्री से पूरे मामले की गंभीरता से जांच करवाने और ट्रस्ट के सदस्य मालिक की सदस्यता रद्द करने की मांग की है। वही मलिक ने भी पूरे मामले की जांच करने की बात कही है।

यह भी पढ़े: हल्दी का पानी दिलाये बिमारियों से छुटकारा
यह भी पढ़े: गर्मी में ककड़ी का सेवन देता है विशेष लाभ, जानिए