Breaking News
Home / राजस्थान / सरकार सच को दबाना चाहती है: अरुण शौरी

सरकार सच को दबाना चाहती है: अरुण शौरी

पत्रकार एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरूण शौरी ने कहा कि मीडिया को दबाया जा रहा है, जो कि लोकतंत्र की हत्या के समान है। शौरी रविवार को पिंकसिटी प्रेस क्लब में चाय पर चर्चा कार्यक्रम में पत्रकारों से रूबरू हुए। उन्होनें कहा कि पिछले साढ़े चार सालों में जिस तरह मीडिया को नजरबन्द करने का पर्यास किया गया और पत्रकारों पर हमले हुए हैं उससे स्पष्ट हो गया है कि सरकार सच को दबाना चाहती है। उन्होंने अनेक उदारहणों के माध्यम से समझानें का पर्यास किया कि रफाल सौदें में जो घोटाला हुआ है वो आजादी से लेकर अब तक का सबसे बड़ा घोटाला है।

Loading...

उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार को सिर्फ ढाई लोग मिलकर चला रहे है। उन्होनें पत्रकारों को आहवान किया कि सच के प्रहरी के रूप में समाज में अलख जगाते रहे जिससे सच गांव में बैठे अंतिम व्यक्ति तक पहुंच सकें। उन्होनें रिर्जव बैंक के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन के हाल ही में दिए बयान पर चर्चा करते हुए कहा कि उन्होंने विकास दर में कमी के लिए जीएसटी और नोटबन्दी को जिम्मेदार ठहराया है।

प्रेस क्लब के अध्यक्ष अभय जोशी ने कहा कि देश भर में पत्रकारों पर हमले बढ़े है। हालात यह है, कि सच बोलने वाले पत्रकारों को चुन-चुन कर टारगेट किया जा रहा है। उन्होनें पिछलें कुछ समय में देश भर में मारे गए पत्रकारों के नामों का उल्लेख करते हुए कहा कि सरकार के मौन से सिस्टम की मंशा का पता चलता है। उन्होने कहा है, कि पत्रकार सच को सामने लाने के लिए निकला है। ऐसे में सरकार और व्यवस्था उनको डराने की कोशिश ना करें।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *