अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में फाड़ी कृषि विधेयक की प्रतियां

दिल्ली विधानसभा में गुरूवार को कृषि बिल की प्रतियां फाड़ी गईं। दिल्ली विधानसभा के एकदिवसीय विशेष सत्र के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सदन में कृषि कानून की प्रतियां फाड़कर अपना विरोध जताया। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ऐसा करते हुए मुझे तकलीफ हो रही है, लेकिन देश का किसान सड़क पर है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा – भाजपा कह रही है कि किसानों को गुमराह किया जा रहा है। इन क़ानूनों के फ़ायदे बताने के लिए भाजपा ने अपने सारे दिग्गज नेता उतारे हैं पर इन भाजपा नेताओं को भी नहीं पता कि इन क़ानूनों का क्या फ़ायदा है? क्योंकि दरअसल इन क़ानूनों से किसानों को कोई फ़ायदा है ही नहीं।

1907 में अंग्रेजों के समय भी तीन किसान विरोधी क़ानूनों के ख़िलाफ़ किसानों का ऐसा ही आंदोलन हुआ था। अंग्रेज सरकार भी पहले कुछ संशोधन के लिए तैयार हुई पर फिर अंग्रेजों ने सभी क़ानून वापिस ले लिए। हमारी सरकार कब किसानों की माँगे मानेगी?