हींग पारंपरिक दवा में एक प्रमुख स्थान रखता है आइये जाने इसके फायदे

हींग पारंपरिक दवा में एक प्रमुख स्थान भी रखता है। इसके स्वास्थ्य लाभ का श्रेय इसके एंटी-वायरल, एंटी-बायोटिक, एंटी-ऑक्सिडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी, शामक (सन्तोषदायक), मूत्रवर्धक और एंटी-कार्सिनोजेनिक गुणों को जाता है।

पेट की परेशानियाँ दूर करे –

चुटकी भर हींग को अपने खाने में, दाल व सब्जी के साथ जरुर लें । इसके अलावा चुटकी भर हींग को आधा कप पानी में घोल कर रोज खाने के बाद पियें ।

सर्दी खांसी मिटाए –

कफ होने पर हींग को पानी में घोल कर पेस्ट बनायें, अब इसे छाती पर लगायें । इसके अलावा आप चुटकी भर हींग को आधी चम्मच अदरक पाउडर व आधी चम्मच शहद के साथ मिलाएं, इस मिश्रण को दिन में 3 बार लें, कफ से जुडी सारी परेशानियाँ दूर हो जाएँगी

सर दर्द मिटाए –

चुटकी भर हींग को 1 गिलास पानी में डाल कर गर्म करें, इसे 15 मिनट तक उबलने दें, अब थोड़ा ठंडा कर दिन में कई बार इसे पिएँ ।

इसके अलावा 1 चम्मच हींग को कपूर, सूखा अदरक व पीसी काली मिर्च की बराबर मात्रा लेकर मिलाएं, इसमें दूध मिलाकर एक पेस्ट बना लें, अब इस मिश्रण को सर पर लगायें । इससे टेंशन भी कम होती है व सर दर्द भी चला जाता है ।

दांत दर्द दूर करे –

दांत दर्द से तुरंत आराम के लिए हींग का छोटा टुकड़ा लेकर दांत में दबा लें, इससे तुरंत दर्द ठीक हो जायेगा । एक कप पानी में हींग, लोंग डालकर हल्का गर्म करे, अब इससे कुल्ला करें, दांत दर्द ठीक हो जायेगा । इसके अलावा हींग को 2 चम्मच नीम्बू के रस के साथ गर्म करें, इस मिश्रण को रुई पर लगाकर दांत के बीच में रखें ।

यह भी पढ़ें:- सिर्फ पका ही नहीं कच्चा पपीता भी होता है लाभकारी, जानिए यहां