Breaking News
Home / दिल्ली / प्रो. मुशीरुल हसन के निधन पर अशोक गहलोत ने जताई संवेदना, बताया अकादमिक दुनिया की क्षति

प्रो. मुशीरुल हसन के निधन पर अशोक गहलोत ने जताई संवेदना, बताया अकादमिक दुनिया की क्षति

जाने माने प्रोफेसर ओर इतिहासकार और इस्लामी विद्वान प्रो. मुशीरुल हसन का आज यानि सोमवार को सुबह देहांत हो गया है। उन्होंने 71 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली। उनके निधन पर राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत ने दुख व्यक्त किया है। एक ट्वीट करते हुए गहलोत ने लिखा, प्रोफेसर मुशिरुल हसन जी के निधन पर मेरी संवेदनाएं। वह एक प्रसिद्ध इतिहासकार, एक शानदार लेखक और एक अद्भुत विद्वान थे। अकादमिक दुनिया के लिए एक बड़ा नुकसान। उनकी आत्मा को शांति मिले।

Loading...

गौरतलब है कि प्रो. मुशीरुल हसन जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के कुलपति और भारतीय राष्ट्रीय अभिलेखागार के महानिदेशक रह चुके थे। उन्होंने भारत के विभाजन और दक्षिण-एशिया में इस्लाम के इतिहास पर बड़े पैमाने पर लिखा। मुशीरुल हसन साल 1992-96 जामिया मिल्लिया इस्लामिया के उप-कुलपति और बाद में साल 2004-09 तक कुलपति रहे।

वे इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ एडवांस्ड स्टडीज के उपाध्यक्ष के साथ-साथ ईरान स्थित दूतावास में इंडो-ईरान सोसाइटी के पूर्व अध्यक्ष और 2002 में भारतीय इतिहास कांग्रेस के अध्यक्ष भी रह चुके थे। उन्हें पद्मश्री से भी सम्मानित किया गया था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *