अशोक लवासा ने चुनाव आयुक्त के पद से दिया इस्तीफा, ADB में बनेंगे उपाध्यक्ष

चुनाव आयुक्त के पद से अशोक लवासा ने अपना इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को अपना इस्तीफा सौंपा। बता दे अगले साल लवासा के मुख्य चुनाव आयुक्त बनने के पूरे आसार थे। लेकिन उनके इस्तीफे के बाद अब सुनील चंद्रा चुनाव आयोग चीफ के मुख्य दावेदार बन गए है। लवासा अगले महीने एशियन डेवलपमेंट बैंक (एडीबी) जॉइन करेंगे। पिछले महीने एडीबी ने उन्हें उपाध्यक्ष नियुक्त किया था।

1980 बैच के रिटायर्ड आईएएस अधिकारी लवासा बैंक में दिवाकर गुप्ता की जगह लेंगे, जिनका कार्यकाल इस साल 31 अगस्त को समाप्त होने जा रहा है। उनकी नियुक्ति की घोषणा करते हुए एशियन डेवलपमेंट बैंक (एडीबी) ने कहा था कि लवासा प्राइवेट सेक्टर ऑपरेशंस और पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के लिए बैंक में उपाध्यक्ष पद पर नियुक्त किये जा रहे है। एडीबी बे जानकारी दी थी कि लवासा, दिवाकर गुप्ता की जगह लेंगे जो 31 अगस्त तक रिटायर्ड होंगे।

आपकी जानकारी के लिए बता दे अशोक लवासा ने 23 जनवरी, 2018 को बतौर भारत के चुनाव आयुक्त के रूप में पदभार संभाला था। वह हरियाणा कैडर के 1980 बैच के रिटायर्ड आईएएस अधिकारी रहे हैं। चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्ति से पहले, लवासा केंद्रीय वित्त सचिव के रूप में सेवानिवृत्ति हुए थे। इससे पहले, वह पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय के केंद्रीय सचिव भी रहे।

यह भी पढ़े: पोस्टरों से सजा अमेरिकी उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस का भारत स्तिथ पैतृक गांव
यह भी पढ़े: राष्ट्रीय आपदा राहत कोष में जमा नहीं होगा PM केयर्स फंड का पैसा: सुप्रीम कोर्ट