पाकिस्तान में पोलियो वैक्सीन देने गयी टीम पर हमला, दो पुलिस कर्मियों की मौत

पकिस्तान में पोलियो वैक्सीन देने गयी टीम पर हमला हो गया जिसमे दो पुलिस कर्मियों की मौत हो गई। यह हमला खैबर पख्तूनख्वा प्रान्त में हुआ। दोनों पुलिस कर्मियों की गोली मारकर हत्या हुई। बुधवार को हुई इस घटना के बारे में बताया जा रहा है कि हेल्थकेयर वर्क्स की एक टीम खैबर-पख्तूनख्वा के मर्दान शहर के नजदीक एक गांव में पोलियो का टीका लगाने पहुंची थी। इस दौरान सुरक्षाकर्मी भी हेल्थकेयर टीम की सुरक्षा के लिए उनके साथ मौजूद थे।

जिला पुलिस अधिकारी ज़ाहिद उल्लाह ने न्यूज एजेंसी ‘AFP’ को बताया है कि मोटरसाइकिल से आए 2 हमलावरों ने अचानक पुलिसकर्मियों पर गोली चला दी। गोली लगने से दोनों पुलिसकर्मियों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। इस दौरान महिला वर्कर घर के अंदर पोलियो का ड्रॉप दे रही थीं। अभी तक किसी भी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

लेकिन साल 2011 में जब अमेरिकी कमांडो ने पाकिस्तान में मौजूद अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी और अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था तब बाद में खुलासा हुआ था कि अमेरिकी खुफिया एजेंसी ने लादेन को पकड़ने के लिए फर्जी हेपेटाइटिस टीकाकरण अभियान चलाया था।अफवाह उडी थी की इस वैक्सीन से लोग नपुंसक हो सकते है।

इस खुलासे के बाद से ही पाकिस्तान में टीकाकरण अभियानों पर हमले बढ़े हैं। टीकाकरण अभियान आतंकवादियों के निशाने पर इसलिए रहते हैं क्योंकि वो मानते हैं कि इन अभियानों से पश्चिमी जासूसों को मदद मिलती है। पाकिस्तान और अफगानिस्तान दो ऐसे देश हैं जहां पोलियो अभी भी मौजूद है। यहां पोलियो के खिलाफ सरकार अभी भी जंग लड़ रही है। इससे पहले जनवरी के महीने में भी टीकाकरण अभियान के दौरान एक पुलिसकर्मी की हत्या कर दी गई थी।

यह भी पढ़ें:

सिंध के सीएम ने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान पर साधा निशाना