पेट के बल सोने से करें परहेज !

यह तो हम सभी जानते हैं कि नींद बेहतर स्वास्थ्य के लिए बेहद आवश्यक होती है। लेकिन क्या आप इस बात से वाकिफ हैं कि आपके सोने का तरीका भी आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। बहुत से लोगों को पेट के बल सोने की आदत होती है और उनकी यही आदत उनकी हेल्थ को प्रभावित करती है। जी हां, पेट के बल सोने वाले लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

आपको शायद पता न हो लेकिन पेट के बल सोने की आदत कमर दर्द का कारण बन जाती है। दरअसल, इसके कारण रीढ़ की हड्डी की नेचुरल शेप बदलनी शुरू हो जाती है। जिस वजह से लगातार दर्द का सामना करना पड़ सकता है। यहां तक कि आपके लिए बैठना-उठना तक मुश्किल हो जाता है।

पेट के बल सोने से गर्दन की स्थिति पर भी विपरीत प्रभाव पड़ता है और मुड़ी हुुई गर्दन से ब्लड की सप्लाई सिर के अंदर सही तरीके से नहीं हो पाती। जिससे सिर में दर्द होने लगता है।

जब गर्दन की पाॅजिशन में फर्क आता है तो इसके कारण गर्दन में खिंचाव भी आ जाता है। इसलिए जहां तक संभव हो, पेट के बल सोने से परहेज करें।

पेट के बल सोने से पाचन क्रिया भी प्रभावित होती है। खाना आसानी से न पचने के कारण पेट संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

 

यह भी पढ़ें-

चलिए जानते हैं अंडे के छिलके से होने वाले ब्यूटी फायदों के बारे मे !