इन चीजों से कीजिए परहेज, बवासीर है दुखदायी रोग

 आजकल बदलती जीवन शैली की वजह से बवासीर होना एक आम बात हो गई हैं, साथ ही ज्यादा तले हुए पदार्थों और मिर्चं मसालों का सेवन करने से भी ये परेशानी उत्पन्न हो जाती हैं।

इसे अग्रेंजी में पाइल्स भी कहते हैै। बवासीर 2 तरह के होते हैं खूनी और बादी। खूनी बवासीर में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होती केवल खून आता है और बादी बवासीर रहने पर पेट खराब रहता है और कब्ज हो जाती है।

ये परेशानी गलत खान-पान के कारण से भी हो सकती है। चलिए जानते हैं बवासीर होने पर किन—किन चीजों से परहेज रखना चाहिए।

-बवासीर होने पर घर का बना हुआ खाना ही खाना चाहिए और जहां तक हो चाय, कॉफी, कोल्ड ड्रिंक जैसे पेय पदार्थ नहीं पीना चाहिए।
-इसके अलावा किसी भी तरह के मांसाहारी चीजों का सेवन भी नहीं करना चाहिए।

-अगर बवासीर की समस्या होने के तुरंत बाद ही अगर हम मसालेदार और तला हुआ भोजन खाना बंद कर दे तो यह समस्या जल्दी ही ​ठीक हो जाते हैं। इसके अलावा खाने में मिर्च का भी कम प्रयोग कीजिए।

-बवासीर की परेशानी वाले लोगों को कम से कम जंक- फूड खाना चाहिए। उन्हें अपने भोजन में हरी सब्जियां, फल आदि का सेवन करना चाहिए जो शरीर के लिए बेहद लाभकारी है।

-इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए बीन्स (राजमा) तथा दालों का सेवन नहीं करना चाहिए।

-देशी घी वैसे तो शरीर के लिए गुणकारी होता है पर कई बार इससे पाइल्स की परेशानी बढ़ जाती है। इसलिए देशी घी का कम सेवन कीजिए।

यह भी पढ़ें-

जानिए कैसे, बालों में आलू का रस लगाना होता है बहुत फायदेमंद