केरल के बहुचर्चित CBI केस राहुल राजू की गुमशुदगी पर आधारित है फिल्म “बेकवाटर्स”

फिल्मनिर्माता सुनील जैन (सुनील जैन प्रोडक्शनस), अंकित चंदिरामानी (सनशाइन स्टूडियोज) और आशीष अर्जुन गायकर (एजीऍफ़एस) ने केरला के मिस्सिंग बच्चो पर आधारित एक फिल्म की घोषणा की हैं.

चाइल्ड ट्रैफिकिंग की रहस्यमयी दुनिया और गुमशुदा बच्चों पर आधारित इस फिल्म का टाइटल बेकवाटर्स है, इस इनवेस्टिगेटिव-थ्रिलर को एफटीआईआई ग्रेजुएट अभिनव ठाकुर डायरेक्ट करेगे.

केरल से लापता बच्चों पर आधारित फिल्म का टाइटल हैं बेकवाटर्स, जो की गॉड’स ओन कंट्री कहलाने वाली स्टेट की हालत पर कड़ी नज़र डालती हैं, खासकर राहुल राजू के मिस्सिंग केस पर जो 2005 में लापता हो गया था, महज सात साल की छोटी उम्र में, और आज तक नहीं मिल पाया हैं.

दिल्ली रंगमंच के अभिनेता सरताज खारी, फिल्म में सीबीआई अधिकारी की भूमिका निभाते नजर आयगे, जबकि यूके की मॉडल नीता पारयानी एक तथ्य-खोजी पत्रकार की भूमिका में नजर आएगी, जो इस केस की साथ-साथ जाँच करती है।

फिल्म की स्टारकास्ट को लेकर फिल्ममेकर ठाकुर  का कहना है , “हमने सीबीआई ऑफिसर की भूमिका के लिए सरताज को उपयुक्त पाया। हम सभी एंगल्स को एक्सप्लोर कर रहे हैं कि बच्चे कैसे लापता हो गए और कैसे मामले की छानबीन करने वाला एक तेज सीबीआई अधिकारी हर घटना को देखता है लेकिन कुछ कर नहीं पाता। इस मामले में पत्रकारों ने भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और नीता एक तथ्य-खोजी पत्रकार की भूमिका के लिए पूरी तरह से सही थी, जो लापता बच्चों के मामलों में अपनी  खोज और जांच खुद करती हैं” !

अपने रोल की लिए एक्टर सरताज़ ने सीबीआई के टॉप ऑफिसर्स से काफी मुलाकाते की हैं, ताकि उनके कामकाज के तरीके और केस को सुलझाने की ट्रिक को समझ सके. वही नीता ने उन पत्रकारों से भी मुलाकात की, जिन्होंने इस मामले को इन्वेस्टीगेट किया था.

“राहुल जिस जगह से लापता हुआ, वह मार्शी-पार्क आज भी जनता के लिए बंद है। उस बच्चे के माता-पिता के बहुत सारे सवाल हैं जिनका आज तक कोई जवाब नहीं मिल पाया हैं” जैन और गायकर ने फिल्म के दृष्टिकोण को बताते हुए कहा!

फिल्म के को-प्रोड्यूसर एस रामचंद्रन ने बताया की फिल्म इस साल के एंड में शुरू होगी और फिल्म को केरला के बेकवाटर्स अलाप्पुज्हा की रियल-लोकेशनस पर शूट किया जाएगा.