बागी कैंप से भागे शिवसेना MLA, बोले- अपहरण हुआ था, उद्धव के साथ हूं

महाराष्ट्र में भयंकर राजनीतिक बवाल मचा हुआ है. शिवसेना (Shivsena) के दिग्गज नेता एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) पार्टी से बगावत विधायकों का एक बड़ा गुट गुवाहटी लेकर जा चुके हैं. इसी बीच शिवसेना के बागी कैंप से भागकर बाहर आए विधायक ने कई बड़े खुलासे किए हैं. विधायक का आरोप है कि उनका अपहरण किया गया था. उनके एक बयान ने राज्य में नया सियासी बवाल मचा दिया है.

दरअसल, शिवसेना विधायक नितिन देशमुख की बागी कैंप से भाग आए हैं. अब नाटकीय ढंग से बाहर आए विधायक देशमुख ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के समर्थन में आवाज उठाई है. उन्होंने दावा किया कि उनका अपहरण किया गया और उन्हें गुजरात के सूरत ले जाया गया, जहां से वह भाग निकले.

उद्धव ठाकरे के साथ हैं विधायक
शिंदे पर गंभीर आरोप लगाते हुए शिवसेना नितिन देशमुख ने कहा है कि उद्धव ठाकरे के साथ हैं. इससे पहले नितिन देशमुख की पत्नी ने मंगलवार को स्थानीय पुलिस थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराते हुए कहा था कि उन्हें उनकी (नितिन देशमुख) जान को खतरे का डर है.

हार्ट अटैक का नाटक
नितिन देशमुख ने बताया कि मैं बच निकला और सुबह लगभग 3 बजे सड़क पर खड़ा था, जब सौ से अधिक पुलिस वाले आए और मुझे अस्पताल ले गए. उन्होंने नाटक किया कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा है. जिसके बाद कुछ चिकित्सा प्रक्रिया करने की कोशिश की गई. उन्होंने कहा कि उन्हें अचानक कोई स्वास्थ्य जटिलता नहीं हुई लेकिन उन्हें जबरन अस्पताल ले जाया गया था.

पत्नी ने की थी शिकायत
आपको बता दें कि उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट उन्होंने प्रांजलि ने अकोला पुलिस स्टेशन में दर्ज कर दिया है. इसमें कहा गया है कि विधायक का फोन 20 जून शाम सात बजे से बंद है और उनका किसी से संपर्क नहीं हो पा रहा है. वहीं अब बाहर आकर विधायक ने अचानक सीएम उद्धव ठाकरे के प्रति अपनी निष्ठा जाहिर की है.

यह भी पढ़ें:

क्या गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीना स्वास्थ्य के लिए है खतरनाक? जानिये…