Breaking News
Home / ज़रा हटके / शोध में हुआ खुलासा, बच्चों को इस वक्त मोबाइल देना हो सकता है खतरनाक!

शोध में हुआ खुलासा, बच्चों को इस वक्त मोबाइल देना हो सकता है खतरनाक!

आज के टेक्नोलॉजी युग में बच्चे से लेकर बूढ़े तक के पास एंड्रायड फोन और इंटरनेट हो गया है. ऐसे में आमतौर बच्चों के लिए स्मार्टफोन का ज्यादा इस्तेमाल काफी नुकसानदेह होता है. बच्चों का ऑनलाइन और मोबाइल पर ज्यादा वक्त बिताना उनके विकास को बाधित करता है. यह हम नहीं कह रहे हैं बल्कि मेडिकल एडवाइजरी ने जारी किया है. आमतौर पर भारत में पैरेंट्स के बच्चों के मोबाइल इस्तेमाल को लेकर किसी भी तरह की एडवाइजरी जारी नहीं होती है. लेकिन दुनिया में कई ऐसे देश है जहां पर समय-समय पर अभिभावकों के लिए मेडिकल एडवाइजरी जारी की जाती है ताकि उन्हें पता चलता रहें कि अपके बच्चों के लिए स्मार्टफोन कितना हानिकारक है.

Loading...

अभिभावकों को जारी हुई मेडिकल एडवाइजरी

हालहि में इस मेडिकल एडवाइजरी को इंग्लैंड, नॉर्थरन आइलैंड, वेल्स और स्कोटलैंड के लिए जारी किया गया है. इस एडवाजरी में बताया गया है कि बच्चों को सोते वक्त और खाते वक्त स्मार्टफोन के इस्तेमाल से दूर रखना चाहिए, ताकि उनकी नींद अच्छे से पूरी हो सकें. यह मेडिकल एडवाइजरी बच्चों के स्क्रीन टाइम और ऑनलाइन व्यवहार को लेकर जारी की गई है. इस रिसर्च से पता चला कि सोशल मीडिया के ज्यादा इस्तेमाल से बच्चों के मानसिक स्वास्थ खराब हो रहा है. इंग्लैंड के चीफ मेडिकल ऑफिसर ने कहा कि चिल्ड्रेन के विकास और कौश के लिए जितना ऑनलाइन टाइम फायेदमंद है उतना ही बच्चों के सोते वक्त और खाते वक्त इस डिवाइस को न देना लाभकारी है.

सोते और खाते वक्त बच्चों से दूर रखें मोबाइल

हो सके तो अभिभावक को सोते वक्त बच्चे के बेडरूम से स्मार्टफोन को दूर ही रखना चाहिए. साथ ही मेडिकल एडवाइजरी को ऑफिसर ने बिल्कुल सही बताया है. उन्होंने साफ बताया कि आजकल बच्चें ऑनलाइन ऐसे कंटेंट भी देखने लगे हैं जिनका उन पर बुरा असर पड़ता है. आमतौर पर इन कंटेंट से बच्चे आत्महत्या और हिंसात्मक व्यहार तक करने लगे हैं.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *