एक नहीं, कई स्वास्थ्य समस्या को झट में दूर करती है तुलसी

तुलसी का पौधा धार्मिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। बहुत से घरों में न सिर्फ इन्हें लगाया जाता है, बल्कि इनकी पूजा भी की जाती है। जहां एक ओर यह पूजनीय है, वहीं स्वास्थ्य के लिए भी यह बहुत लाभकारी है। यह न सिर्फ गले की खराश को दूर करता है, बल्कि इसके जरिए आप कई तरह की अन्य बीमारियों को भी दूर किया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

बदलते मौसम में अगर आपको सर्दी जुकाम हो गई है तो आप तुलसी की पत्तियों को चाय में उबालकर पीएं। तुलसी की पत्तियां कफ साफ करने में मदद करती हैं। तुलसी के कोमल पत्तों को चबाने से खांसी और नजले से राहत मिलती है।

वहीं बुखार होने की स्थिति में भी तुलसी का प्रयोग किया जा सकता है। इसके लिए तुलसी का अर्क निकालकर पीएं।

गले में खराश होने पर तुलसी के पत्तों की चाय बनाकर पीनी चाहिए। साथ ही आप तुलसी के पानी से गरारा करें। बच्चों में बुखार, खांसी और उल्टी जैसी सामान्य समस्याओं में तुलसी बहुत फायदेमंद है।

तुलसी गुर्दे के लिए लाभदायक होता है। यदि किसी के गुर्दे में पथरी हो गई हो तो उसे शहद में मिलाकर तुलसी के अर्क का नियमित सेवन करना चाहिए। छह महीने में फर्क दिखेगा।

तुलसी हृदय रोगों को दूर रखने में मददगार है। यह खून में कोलेस्ट्राल के स्तर को घटाती है।

शायद आपको जानकर हैरानी हो लेकिन तुलसी की पत्तियों की मदद से तनाव को भी कम किया जा सकता है। तनाव को खुद से दूर रखने के लिए कोई भी व्यक्ति तुलसी के 12 पत्तों का रोज दो बार सेवन कर सकता है।

हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है करी पत्ता, जानिए कैसे